Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Sonakshi Sinha Interview : सोनाक्षी सिन्हा ने बॉलीवुड के इस दिग्गज को दिया एक्टिंग करियर का क्रेडिट

सोनाक्षी सिन्हा का करियर उतार-चढ़ाव से भरा रहा है। उनकी कम ही फिल्मों को सफलता मिली। लेकिन इसके बावजूद वह बॉलीवुड में जमी हुई हैं, दर्शकों में भी उनका एक क्रेज है। सोनाक्षी अपकमिंग फिल्म ‘दबंग-3’ है, इस फिल्म के पहले पार्ट से उनका करियर शुरू हुआ था। इस फिल्म के नौ साल पूरे होने पर वह कैसा फील कर रही हैं? आगे वह क्या नया कर रही हैं? अपनी देसी हीरोइन की इमेज पर उनका क्या कहना है? खुली-खुली बातें सोनाक्षी सिन्हा से।

Sonakshi Sinha Interview Sonakshi Sinha Give Acting Career Credit To Salman KhanSonakshi Sinha Interview Sonakshi Sinha Give Acting Career Credit To Salman Khan

सलमान खान स्टारर फिल्म 'दबंग' से सोनाक्षी सिन्हा ने अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत की थी। अब उनके करियर को दस साल पूरे होने वाले हैं। इस फिल्म को अपने लिए सोनाक्षी बहुत ही खास मानती हैं। वह इस फिल्म के सीक्वल का हमेशा हिस्सा बनती रही हैं। 'दबंग-3' में भी वह रज्जो के रोल में नजर आएंगी। सोनाक्षी की पहचान बॉलीवुड में अच्छी एक्ट्रेस के साथ एक फैशन कॉन्शस एक्ट्रेस की भी है। वह फैशन ब्रांड मिंत्रा की ब्रांड अंबेसडर भी हैं। फिल्मी करियर, फैशन से जुड़ी बातचीत, सोनाक्षी सिन्हा से।

आपका फैशन सेंस काफी अच्छा है? क्या आप हमेशा से ही इतनी फैशनेबल रही हैं?

हमेशा से तो फैशनेबल नहीं रही हूं। मेरे पापा शत्रुघ्न सिन्हा फिल्म इंडस्ट्री से जरूर जुड़े थे लेकिन घर में फिल्मी माहौल कभी नहीं था। हम कभी बहुत फैशनेबल ड्रेसेस नहीं पहनते थे। पापा के साथ फिल्मी पार्टियों में शरीक भी नहीं होते थे। ऐसे में फैशन सेंस डेवलप नहीं हुआ। मैंने फैशन डिजाइनिंग का कोर्स किया लेकिन इससे भी फैशन सेंस अचानक से नहीं बढ़ा। दस साल की बॉलीवुड जर्नी में मैंने धीरे-धीरे अपने फैशन सेंस को बढ़ाया है। अपनी फैशन मिस्टेक्स से सीखा है। अब तो मेरे स्टाइल को मेंटेन रखने में पर्सनल स्टाइलिस्ट मोहित राय मदद करते हैं। मैं अपनी मम्मी पूनम सिन्हा से भी इंस्प्रेशन लेती हूं, उनका कोई स्टाइलिस्ट नहीं है लेकिन उनका साड़ी लुक कमाल का होता है।

आपकी नजर में बॉलीवुड का फैशन आइकॉन कौन है?

बहुत सारे एक्टर हैं। दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह दोनों फैशन में अव्वल हैं। दीपिका मॉडलिंग की दुनिया से आई हैं तो उनका फैशन सेंस बहुत अच्छा है। रणवीर सिंह तो जो भी पहनते हैं, उसे बड़े ही कॉन्फिडेंस से कैरी करते हैं। सोनम कपूर तो फैशन आइकॉन हैं ही। आलिया भी फैशनेबल हैं।

आप फिल्मों में इंडियन लुक में ही ज्यादा नजर आई हैं। आप पर देसी हीरोइन का टैग लग चुका है? इसे कैसे देखती हैं?

मैं इंडियन एक्ट्रेस हूं, मुझे भारतीय होने पर गर्व है। मुझे देसी हीरोइन के टैग से कोई प्रॉब्लम नहीं है। मेरी डेब्यू फिल्म 'दबंग' थी, जिसमें मैंने रज्जो का किरदार निभाया था। रज्जो गांव में रहने वाली एक लड़की है। यह देसी रोल लोगों को खूब पसंद आया था। इसी रोल ने मुझे बॉलीवुड में पहचान दी। यही वजह है कि बाद में मैं लगातार 'दबंग' फ्रेंचाइजी में इस किरदार को निभाती रही। अब 'दबंग-3' का भी हिस्सा हूं। आपको बता दूं, मेरे किरदार रज्जो का लुक महिलाओं के बीच बहुत पसंद किया है, इसे फॉलो किया गया है। यह मेरे लिए बड़ी बात है। हाल ही में मैंने 'दबंग' फिल्म की रिलीज के नौ साल पूरे होने पर, अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इससे जुड़ी मेमोरी शेयर कीं। इसी तरह 'राउड़ी राठौर', 'लुटेरा', 'आर. राजकुमार' जैसी फिल्मों में भी मेरा देसी लुक था, जिन्हें खूब पसंद किया गया। मैं भी मानती हूं कि देसी लुक मुझ पर सूट करता है।

'दबंग-3' इस साल रिलीज होगी। इसके बारे में कुछ बताइए?

'दबंग- 3' फिल्म की शूटिंग अगस्त के पहले हफ्ते में पूरी हो गई है। इस समय डबिंग, पोस्ट प्रोडक्शन का काम चल रहा है। सलमान सर रियलिटी शो 'बॉस सीजन-13' में भी बिजी हैं। फिल्म 'दबंग-3' मैं रज्जो यानी चुलबुल पांडे की पत्नी का ही रोल कर रही हूं। लेकिन कहानी के बारे में कोई डिटेल हम अभी शेयर नहीं कर सकते हैं।

आपके करियर को दस साल हो गए हैं? डेब्यू फिल्म 'दबंग' से आपको बड़ी पहचान मिली थी। कैसे आपको वह पहला मौका मिला था?

मैंने फैशन डिजाइनिंग करने के बाद एक पीआर एजेंसी में बतौर इंटर्न काम करना शुरू किया था। एक बड़े फैशन वीक में मीडिया मैनेजर का मेरा काम था। इसी दौरान अचानक सलमान खान मेरे पास आए और बोले- 'तुम्हें अपना वजन कम करना होगा।' मैं हैरान हुई, वह ऐसा क्यों कह रहे हैं? फिर सलमान ने कहा- 'मैं तुम्हें अपने प्रोडक्शन की फिल्म 'दबंग' के लिए चुलबुल पांडे के अपोजिट कास्ट करना चाहता हूं।' मुझे तब भी कुछ समझ नहीं आया। सलमान सर ने फिर कहा-'लूज योर वेट।' फिर सलमान के ऑफिस से उनके मैनेजर का फोन आया, उन्होंने ऑफिस में मिलने को बुलाया। मुझे दस-बारह किलो वजन कम करने को कहा क्योंकि मुझे फिल्म 'दबंग' में रज्जो का रोल निभाना था। उस वक्त मैं इक्कीस साल की थी। मेरे पापा-मम्मी ने कहानी सुनने के बाद फिल्म करने की मंजूरी दे दी। इस तरह मैं फिल्म का हिस्सा बनी। बाद में मुझे इस फिल्म के लिए अवॉर्ड मिला। आज इस फिल्म को नौ साल पूरे हो गए हैं लेकिन इस फिल्म की, सफर की यादें मेरे जेहन में ताजा हैं। मैं अपने एक्टिंग करियर का क्रेडिट सलमान खान को देती हूं, क्योंकि उनकी वजह से यह सब मुमकिन हुआ।

पिछले दिनों आपकी एक फिल्म 'खानदानी शफाखाना' आई थी। इसे बहुत अच्छा रेस्पॉन्स नहीं मिला। क्या आप निराशा हुईं?

जब 'खानदानी शफाखाना' की स्टोरी मेरे पास आई तो मुझे लगा गलती से यह मेरे पास आई है। इसकी डायरेक्टर शिल्पी दासगुप्ता थीं। लेकिन जब कहानी, किरदार मैंने पढ़ा तो लगा यह फिल्म करनी चाहिए। इस फिल्म को करके बतौर एक्ट्रेस मैंने ग्रो किया। इसलिए निराश होने वाली बात नहीं है। हर फिल्म से एक कलाकार होने के नाते हम कुछ न कुछ जरूर सीखते हैं।

नहीं भूलती वो तारीफ

जब किसी एक्टर की पहली फिल्म रिलीज होती है तो कई लोग तारीफ करते हैं। सोनाक्षी के जेहन में ऐसी कोई तारीफ है, जो उन्हें पहली फिल्म के बाद मिली और आज भी याद है? पूछने पर वह बताती हैं, 'फिल्म 'दबंग-1' को देखकर सलीम खान अंकल ने पापा को फोन किया और हम लोगों को घर पर इंवाइट किया। सलीम अंकल ने मुझे बधाई देते कहा कि रज्जो का किरदार जितना मैंने बेहतरीन तरीके से किया है, कोई और नहीं कर सकता। अब इससे बड़ी तारीफ मेरे लिए क्या हो सकती थी। मैं आज भी उनकी तारीफ को नहीं भूली हूं।'

लेखिका : पूजा सामंत

Next Story
Share it
Top