Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऐश्वर्या राय के 'बैरी पिया' ने बना डाला श्रेया घोषाल का करियर, बिपाशा के 'जादू है नशा है' से मिली रफ्तार

shreya ghoshal: श्रेया बचपन में अपनी मां को गाते और हारमोनियम बजाते हुए सुना करती थी। उनकी पहली गुरू उनकी मां ही थी। 6 साल की उम्र में उन्होंने मां से क्लासिकल म्यूजिक सीखा।

ऐश्वर्या राय के बैरी पिया ने बना डाला श्रेया घोषाल का करियर, बिपाशा के जादू है नशा है से मिली रफ्तार
X

बॉलीवुड की मशहूर सिंगर श्रेया घोषाल 12 मार्च को 37वां जन्मदिन सेलिब्रेट करेंगी। उनका जन्म 12 मार्च 1984 को पाश्च्मि बंगाल के छोटे से गांव ब्रह्मपुर में हुआ था। श्रेया के पिता विश्वजीत घोषाल भारत के परमाणु ऊर्जा निगम में इलेक्ट्रिकल इंजीनियर है। वही उनकी मां शर्मिष्ठा घोषाल एक ग्रहणी है। श्रेया बचपन में अपनी मां को गाते और हारमोनियम बजाते हुए सुना करती थी। उनकी पहली गुरू उनकी मां ही थी। 6 साल की उम्र में उन्होंने मां से क्लासिकल म्यूजिक सीखा।

पिता का ट्रांसफर होने के बाद श्रेया का परिवार मुंबई आ गया। सन 2000 में श्रेया ने जी टीवी के शो 'सारेगामापा चाइल्ड स्पेशल' में हिस्सा लिया। श्रेया ने अपनी आवाज से सभी को दिवाना बना दिया और शो को जीता। इसके बाद फिल्म डायरेक्टर संजय लीला भंसाली ने उन्हें बड़ा ब्रेक देते हुए नया प्रोजेक्ट ऑफर किया। संजय लीला भंसाली ने 'देवदास' में श्रेया घोषाल को सॉन्ग गाने का मौका दिया। श्रेया ने पहला गाना 'बैरी पिया' रिकॉर्ड हुआ। उस वक्त श्रेया सिर्फ 16 साल की थी।

ये गाना उन्होंने सिंगर उदित नारायण के साथ गाया। इसी गाने के लिए श्रेया को नेशनल अवार्ड मिला। इसके बाद श्रेया फिल्म जिस्म के लिए 'जादू है नशा है' औक 'चलो तुमको लेकर' गाना गाया। ये गाना भी लोगों को काफी पसंद आया और इस गाने के लिए उन्हें अवार्ड भी मिले। इसके बाद श्रेया के पास कई ऑफर्स आने लगे। वहीं बात करें अगर श्रेया के निजी जीवन की तो 5 फरवरी 2015 को श्रेया ने बंगाली रीति रिवाजों से अपने बचपन के दोस्त शिलादित्य से शादी कर ली। शादी के 6 साल बाद श्रेया अब मां बनने जा रही है। वो प्रेग्नेंट है।

Next Story