Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

'गृहणियों को सैलरी' के सुझाव पर भड़की कंगना रनौत, कहा- 'Housewife को न बनाए Employee'

दरअसल, एमएनएम यानी मक्कल नीधी मैयम पार्टी के अध्यक्ष और एक्टर कमल हासन ने अपने घोषणा पत्र में ऐलान किया, कि उनकी पार्टी सत्ता में आते ही गृहणियों को हर महीने सैलरी दी जाएगी।

गृहणियों को सैलरी के सुझाव पर भड़की कंगना रनौत, कहा- Housewife को न बनाए Employee
X

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत और कांग्रेस लीडर शशि थरूर सोशल मीडिया पर आमने-सामने आ गए गए है। मुद्दा- 'घरेलू काम को एक प्रोफेशन का दर्जा देना और गृहणियों की सैलरी फिक्स करना'... इस मुद्दे को लेकर कंगना रनौत के निशाने पर न सिर्फ शशि थरुर रहे बल्कि उन्होंने कमल हासन पर भी निशाना साधा। दरअसल, एमएनएम यानी मक्कल नीधी मैयम पार्टी के अध्यक्ष और एक्टर कमल हासन ने अपने घोषणा पत्र में ऐलान किया, कि उनकी पार्टी सत्ता में आते ही गृहणियों को हर महीने सैलरी दी जाएगी।

कमल हासन के इस सुझाव का समर्थन शशि थरुर ने भी किया और इससे गृहणियों को पहचान देने वाला कदम बताया। समर्थन करते हुए शशि थरूर ने लिखा- 'मैं कमल हासन के सुझाव का समर्थन करता हूं कि हाउसवर्क को भी सैलरी प्रोफेशन के तौर पर महत्व दिया जाए। राज्य सरकार की ओर से होममेकर्स को मासिक वेतन दिया जाना चाहिए। इससे समाज में महिला होममेकर्स के काम को सम्मान और पहचान मिलेगी। उनकी ताकत और स्वायत्ता बढ़ेगी और हम यूनिवर्सल बेसिक इनकम के नियम के करीब पहुंच सकेंगे।'

लेकिन कंगना रनौत को ये सुझाव पसंद नहीं आया और इसे गलत करार देते हुए कहा- 'लिंग के आधार पर प्राइस टैग न लगाएं। हम प्यार के साथ इस काम को कर रहे है। अपने घर की हम क्वीन है, हर चीज को बिजनेस के तौर पर न देखें। इसके अलावा, कंगना ने एक ट्वीट में कहा- 'ये तो इससे भी बुरा होगा कि घर के मालिक को घर का एंप्लॉयी बना दिया जाए। माताओं की ओर से जिंदगी भर के त्याग पर प्राइस टैग नहीं लगाया जा सकता। ये ऐसा है कि आप भगवान को उसकी रचना के लिए पेमेंट करना चाहें। ये कुछ हद तक दर्द पहुंचाने वाले और कुछ हद तक मजाकिया आइडिया है।'

Next Story