Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Chhath Puja Bhojpuri Gana : छठ पूजा का सबसे प्यारा भोजपुरी गाना घर घर होला छठी माई के बरतिया

Chhath Puja 31 अक्टूबर से 'छठ' का त्योहार शुरु हो जाएगा। इस मौके पर सोशल मीडिया पर छठ का भोजपुरी गाना खूब वायरल हो रहा है। गाने में आम्रपाली दुबे छठ पूजा करती हुई नजर आ रही है।

Chhath Puja Bhojpuri Gana : छठ पूजा का सबसे प्यारा भोजपुरी गाना घर घर होला छठी माई के बरतिया

Chhath Puja Bhojpuri Gana दिवाली से ठीक 6 दिन बाद छठ का त्योहार (Chhath 2019) शुरु हो जाएगा। छठ को लेकर तैयारियां अभी से शुरु हो गई है। ये त्योहार खासकर यूपी और बिहार में मनाया जाता है। इस मौके पर सोशल मीडिया पर एक गाना जमकर वायरल हो रहा है। गाने में आम्रपाली दुबे (Amrapali Dubey) नजर आ रही है। दरअसल, ये गाना छठ का गाना है। इसमें आम्रपाली को छठ पूजा करते हुए दिखाया गया है। गाने का नाम है- 'घर घर होला छठी माई के बरतिया' (Ghare Ghare Hota Chhathi Maai Ke Varatiya)... गाने की शुरुआत शहर के शॉट्स से होती है और बाद में एक घर का सीन आता है। जिसमें आम्रपाली और कुछ औरतें छठ की पूजा कर रही है।



गाने में छठ त्योहार पर बनाए जाने वाले स्पेशल चीजों को बनाते हुए भी दिखाया गया है। इसके अलावा, छठ के पूजा में इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री को भी दिखाया गया है। गाने में आगे नदी के किनारे सूर्य को अर्घ्य देते हुए दिखाया गया है।


'घर घर होला छठी माई के बरतिया' गाना फिल्म 'लागल रहा बताशा' (Lagal Raha Batasha) का गाना है। ये गाना कल्पना ने गाया है। जबकि इस गाने के बोल प्यारे लाल यादव (Pyare Lal Yadav) और आजाद सिंह (Aazad Singh) ने लिखे है। वहीं म्यूजिक ओम झा ने दिए है। अगर लुक की बात करें तो छठ पूजा में आम्रपाली का ये साड़ी लुक (Amrapali Dubey Saree Look) काफी बेहतरीन लग रहा है।


आम्रपाली ने पिंक कलर की बॉर्डर साड़ी पहननी हुई है। साथ में ज्वेलरी उनके लुक में जान डाल रहा है। यानी अगर आप छठ पर अपनी ड्रेस को लेकर कंफ्यूज है कि आप छठ पर क्या पहने.. तो ये इस स्टाइल की साड़ी आपको अलग लुक देगा। आपको बता दें कि छठ पूजा के पहले दिन नहाय-खाय होता है और जो व्रत रखता है, वो सात्विक भोजन करते है। सात्विक भोजन में चने की दाल और लौकी की सब्जी खास होती है। नहाय-खाय के दूसरे दिन खरना होता है। खरना के दिन व्रत रखने वालों को कुछ भी खाना नहीं होता। शाम पर सिर्फ गुड़ वाली खीर ही खानी होती है। कुल मिलाकर छठ का त्योहार बेहद खास होता है।

Next Story
Share it
Top