Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जया बच्चन के खिलाफ उतरीं भोजपुरी इंडस्ट्री, कहा- 'रवि किशन थाली को साफ रखना चाहते है, ताकि आने वाली पीढ़ी...'

जया बच्चन के खिलाफ भोजपुरी इंडस्ट्री उतर गई है। भोजपुरी सुपरस्टार्स का कहना है- 'रवि किशन थाली को साफ रखना चाहते है, ताकि आने वाली पीढ़ी साफ थाली में खा सके...'

जया बच्चन के खिलाफ उतरीं भोजपुरी इंडस्ट्री, कहा- रवि किशन थाली को साफ रखना चाहते है, ताकि आने वाली पीढ़ी...
X
भोजपुरी इंडस्ट्री

फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग्स के बढ़ते इस्तेमाल का मुद्दा एक्टर और गोरखपुर से सांसद रवि किशन ने संसद में उठाया था। रवि किशन ने कहा- 'भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग्स की लत काफी ज्यादा है, कई लोगों को पकड़ लिया गया है। एनसीबी बहुत अच्छा काम कर रही है। मैं केंद्र सरकार से अपील करता हूं वो सख्त कार्रवाई करें और दोषियों को जल्द से जल्द पकड़े, उन्हें सजा दें ताकि पड़ोसी देशों की साजिश का नाकाम हो सके।' रवि किशन के इस मुद्दे पर जया बच्चन ने अगले दिन भड़ास निकाली और कहा- 'जिस थाली में खाते है, उसी में छेद करते है।'

जिसके बाद से सोशल मीडिया पर रवि किशन और जया बच्चन के बीच विवाद बढ़ गया है। ऐसे में रवि किशन का साथ देने भोजपुरी इंडस्ट्री के सितारें सामने आ रहे है। इस कड़ी में भोजपुरी सुपरस्टार दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ ने रवि किशन के समर्थन में ट्वीट किया। निरहुआ (Nirahua) ने ट्वीट में लिखा- 'गोरखपुर के माननीय सांसद बड़े भैया रवि किशन जी ने कुछ गलत नहीं बोला, कुछ लोगों को इतनी मिर्ची क्यों लग रही है ?', तो वहीं भोजपुरी एक्ट्रेस आम्रपाली दुबे (Amrapali Dubey) ने इंस्टाग्राम पोस्ट के जरिए कहा- 'जिस थाली में खाते है, उसमें छेद नहीं कर रहे... उस थाली को साफ रखना चाहते हैं ताकि आने वाली पीढ़ी भी स्वच्छ थाली में खा सके।'

भोजपुरी एक्ट्रेस अक्षरा सिंह ने भी रवि किशन (Ravi Kishan) के बयान का समर्थन किया। अक्षरा सिंह (Akshara Singh) ने कहा- 'इंडस्ट्री में गलत के खिलाफ आवाज उठाना क्या गलत है, वो भी उसने आवाज उठाई जिसने भोजपुरी को खून पसीना एक कर पहचान दिलाई, जो भोजपुरी बिना किसी सरकारी मदद के और सहानुभूति के अपने दम पर अपनी पहचान बनाई उस पर कोई ऐसे कैसे बोल सकता है। इस मामले को लेकर बॉलीवुड और भोजपुरी इंडस्ट्री अब आमने सामने हो गए है। सोशल मीडिया पर भी लोग जमकर प्रतिक्रियाएं दे रहे है।

Next Story
Top