Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पैसे की हेराफेरी को लेकर नूतन और उनकी मां के बीच 20 साल तक नहीं हुई बातचीत, जानिए कुछ इंट्रेस्टिंग फेक्ट्स

अपने जमाने की मशहूर अदाकारा नूतन बहल का आज जन्मदिन है। अभिनेत्री नूतन का जन्म 4 जून 1936 को मुंबई में हुआ था। उन्हें 6 बार फिल्म फेयर अवॉर्ड का पुरस्कार दिया गया।

पैसे की हेराफेरी को लेकर नूतन और उनकी मां के बीच 20 साल तक नहीं हुई बातचीत, जानिए कुछ इंट्रेस्टिंग फेक्ट्स

अपने जमाने की मशहूर अदाकारा नूतन बहल का आज जन्मदिन है। अभिनेत्री नूतन का जन्म 4 जून 1936 को मुंबई में हुआ था। अपने 40 साल के करियर में नूतन ने कई तरह के किरदार निभाए। उन्होंने उस समय के हर अभिनेताओं के साथ काम किया है। उन्हें 6 बार फिल्मफेयर अवॉर्ड से नवाजा गया है। साथ ही 1974 में भारत सरकार ने उन्हें पद्म श्री से सम्मान किया है।

नूतन ने अपने जीवन में कई उतार-चढ़ाव भी देखें। कहा जाता है कि उनकी रील लाइफ उनकी रीयल लाइफ से मैच नही करती थी। नूतन के अपनी मां के साथ रिश्ते काफी खराब हो गए थे। पैसों से हेरफेर को लेकर हुई एक कहासुनी से मां-बेटी के बीच 20 साल तक बातचीत नहीं हुई।

नूतन ने 11 अक्टूबर 1959 को नौसेना के लेफ्टिनेंट कमांडर रजनीश बहल से शादी की थी। उनका एक बेटा मोहनिष है। उन्होंने अपनी शादी के बाद भी अपने फिल्मी करियर को जिंदा रखा और कई दमदार फिल्में की।

उनकी मां नूतन के दुबले होने के कारण उन्हें 'अगली बेबी' बुलाती थी। लेकिन उसी अगली बेबी ने मिस इंडिया का खिताब जीतकर सबको चौका दिया। नूतन ने मात्र 14 साल की उम्र में ही फिल्मों में काम करना शुरु कर दिया।

नूतन की पहली फिल्म 'हमारी बेटी' थी। जिसमें उन्होंने बतौर हीरोइन के रूप में बड़े पर्दे पर उतारा गया। इसके बाद 'पेइंग गेस्ट' और 'दिल्ली का ठग' जैसी फिल्में आई जिसमें उन्होंने कमाल का अभिनय किया।

1959 में आई फिल्म 'सुजाता' नूतन के करियर को आसमान की ऊंचाइयों पर ले गई। नूतन ने 'अछूत कन्या' के किरदार को बड़े पर्दे पर ऐसा साकार किया कि लोग उस किरदार को आज भी याद करते हैं।

नूतन को संगीत का शौक था। फिल्म 'हमारी बेटी' में उन्होंने 'तुझे कैसा दूल्हा भाय री बांकी दुल्हनिया' गीत गाया था। उन्होंने अपने फिल्मी करियर में बंदिनी, मंजिल, मिलन, बसंत, साजन बिना सुहागन आदि फिल्मों में काम किया है।

लेकिन जल्द ही नूतन को कैंसर जैसी गंभीर बिमारी ने घेर लिया। तमाम इलाजों के बावजूद वह ठीक नही हुई और 21 फरवरी 1991 को बॉलीवुड का एक सितारा कम हो गया।

Next Story
Top