Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भूमि पेडनेकर ने बताया प्रेमी-प्रेमिका और पति-पत्नी के प्यार का मतलब

भूमि पेडनेकर ने अपने करियर की शुरुआत अलग तरह की फिल्मों से की। उन्होंने अब तक तीन फिल्में की हैं, तीनों सफल रहीं।

भूमि पेडनेकर ने बताया प्रेमी-प्रेमिका और पति-पत्नी के प्यार का मतलब

भूमि पेडनेकर ने अपने करियर की शुरुआत यशराज फिल्म्स में असिस्टेंट कास्टिंग डायरेक्टर के रूप में की थी। बाद में यशराज फिल्म्स से ही उन्होंने फिल्म ‘दम लगा के हाइशा’ से एक्टिंग की फील्ड में कदम रखा।

इस फिल्म के बाद उन्होंने ‘ट्वॉयलेट एक प्रेम कथा’ और ‘शुभ मंगल सावधान’ जैसी अर्थपूर्ण फिल्में कीं, जो सफल रहीं। अब वह डायरेक्टर अभिषेक चौबे की चंबल के डकैतों पर आधारित फिल्म कर रही हैं। इस फिल्म और करियर से जुड़ी बातें भूमि पेडणेकर से।

क्या यह माना जाए कि आप सिर्फ मीनिंगफुल सिनेमा का हिस्सा बने रहना चाहती हैं?

मीनिंगफुल सिनेमा करने से एक अलग तरह की सैटिस्फेक्शन मिलती है। मैं खास तरह की फिल्में देखती हुई बड़ी हुई हूं, इसलिए उसी तरह की फिल्में चुन रही हूं। इसके मायने यह नहीं हैं कि मुझे टिपिकल मसाला फिल्मों से एलर्जी है। मैं करण जौहर और इम्तियाज अली की फिल्मों का भी हिस्सा बनना चाहती हूं। मुझे स्ट्रॉन्ग स्टोरी वाली फिल्में जल्दी पसंद आती हैं। मैं यह नहीं कहती कि हर फिल्म की कहानी केवल मेरे इर्द-गिर्द घूमे, लेकिन मैं चाहती हूं कि फिल्म की स्टोरी ऐसी हो, जिसमें मेरा किरदार अहम हो।

आपने अभी तक कोई ग्लैमरस रोल नहीं प्ले किया है?

मैंने ज्यादातर वूमेन ओरिएंटेड फिल्में की हैं। वास्तव में अब वो दिन लद गए जब फिल्मों में हीरोइन को ग्लैमरस गुड़िया की तरह पेश किया जाता था। अब फिल्मों में हीरोइन के रोल काफी पावरफुल होते हैं, आज की एक्ट्रेसेस महज ग्लैमरस गुड़िया नहीं रहीं। यह खुशी की बात है कि अब इस तरह की फिल्में भी लिखी जा रही हैं। मैं अभिषेक चौबे के डायरेक्शन में एक अनाम फिल्म कर रही हूं, इसमें भी मेरा नॉन ग्लैमरस रोल है।

आगे की स्लाइड में जानिए भूमि की नजर में क्या है प्यार का सही मतलब...

Next Story
Top