Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रामायण की सफलता के बाद डर गई थी सरकार, श्री कृष्णा को कर दिया था बैन

दूरदर्शन द्वारा 'श्री कृष्णा' Shri Krishna को दिखाने से मना करने पर मार्केट में उतारनी पड़ी थी वीडियो कैसेट, मॉरीशस में दिखाया गया था श्री कृष्णा का प्रीमियर

रामायण की सफलता के बाद डर गई थी सरकार, श्री कृष्णा को कर दिया था बैन
X

रामायण और महाभारत (Ramayana-MahaBharat) के बाद एक बार फिर से दूरदर्शन (Door Darshan) पर शुरू हो रहा श्री कृष्णा को लेकर लोगों में गजब का उत्साह है, लेकिन क्या आप जानते है कि इसको पहली बार दूरदर्शन पर लाने के लिए (Ramananad Sagar) रामानंद सागर और उनके बेटे को कितने प्रयास करने पड़े थे। उन्हें तमाम ऑफिसों के चक्कर काटने के साथ ही हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीमकोर्ट तक जाना पड़ा था। बताया जाता है कि इसकी वजह रामयाण की लोकप्रियता को देखकर सरकार का घबरा जाना था। जिसको लेकर सरकार ने 'श्री कृष्णा' (Shri Krishna) को दूरदर्शन पर रिलीज न करने के निर्देश दे दिये थे। इसी के बाद रामानंद सागर ने सारे रास्ते बंद मिलने पर 'श्री कृष्णा' की कैसेट (Shri Krishna Video) मार्केट में उतारी। इसके साथ ही श्री कृष्णा का मॉरीशस में प्रीमियर किया गया। यह मामला पार्लियामेंट में गुजा तो तब जाकर कुछ इस तरह श्री कृष्णा को दूरदर्शन पर दिखाया गया। यह जानकारी 'श्री कृष्णा' को बनाने वाले रामानंद सागर के बेटे और सिनेमेटोग्राफर प्रेम सागर ने एक अखबार को दी।

जानिए श्री कृष्णा को भारत की जगह क्यों मॉरीशस में दिखाने को मजबूर हो गये निर्माता

रामानंद सागर के बेटे प्रेम सागर ने बताया कि 'श्री कृष्णा' को दूरदर्शन पर लाने के लिए बड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था। उनके अनुसार, 'रामायण' (Ramayana) की लोकप्रियता के बाद साफ निर्देश जारी हो गए थे कि इस तरह का कोई धारावाहिक दूरदर्शन (Door Darshan) पर न लाया जाये। वहीं इसके बाद ही एलके आडवाणी के अपनी रथयात्रा शुरू कर दी थी। जिसके चलते सभी पौराणिक शो को कडे तौर पर बंद कर दिया गया। जब कहीं से कुछ नहीं हो पाया तो शुरू किया यह काम।

मार्केट में उतारी श्री कृष्णा की कैसेट और मॉरिशस में किया प्रीमियर

प्रेम सागर ने बताया कि जब 'श्री कृष्णा' (Shri Krishna) को दूरदर्शन पर नहीं दिखाया गया तो फिर मार्केट में इसकी वीडियो कैसेट निकालने का उपाय निकाला गया। क्योंकि इस पर कोई रोक और नियम नहीं था। जैसे ही मार्केट में 'श्री कृष्णा' की वीडियो कैसेट (Shri Krishna Ki Video Cassette) आई। इसकी बिक्री बहुत ही तेजी से शुरू हो गई। इसके बाद वीडियो रथ निकाला गया। जिस पर 'श्री कृष्णा' चलाकर लोगों को आकर फ्री में देखने का आमंत्रित किया गया। साथ ही इसके विज्ञापन भी दिये। इसके बाद भी श्री कृष्णा के रिलीज नहीं होने पर मॉरीशस का रूख करना पडा। श्री कृष्णा का प्रीमियर मॉरीशस में किया गया। वहां पर राधा-कृष्णा का भव्य स्वागत किया गया। लोगों ने अपने घरों से बाहर निकलकर फूलों की वर्षा की। इधर यह बात भारत में पता लगते ही यही मामला अब पालियामेंट में गुंज उठा।

संसद में उठा मामला और फिर खुली श्री कृष्णा शो की राह

देश की संसद में हंगामा होते ही राज्यसभा में सवाल पूछा गया कि 'श्री कृष्णा' (Shri Krishna Show) का प्रसारण इंडिया में क्यों नहीं किया जा रहा है। उसी दौरान चेन्नई की चर्चित एडवरटाइजिंग एजेंसी के आरके स्वामी ने दूरदर्शन के कुछ स्लॉट खरीदे लिये। प्रेम सागर ने कहा कि स्वामी जब मुझसे मिलने आए तब मैंने एक प्लान बनाकर उन्हें दे दिया, लेकिन स्वामी से दूरदर्शन वालों ने पूछा ही नहीं कि वे कौन सा शो लेकर आ रहे हैं। इसबीच ही हमने श्री कृष्णा को सेंसर बोर्ड (Censor Board) से पास करा लिया। इसके बाद वो दिन पास ही आ गया था। जब दूरदर्शन पर 'श्री कृष्णा' को रिलीज होना था, लेकिन अभी तक स्लॉट बुक कर चुके दूरदर्शन को कौन सा धारावाहिक के लिए यह बुकिंग हुई है। उसकी जानकारी नहीं थी। जैसे ही दूरदर्शन को पता चला कि जिन स्लॉट को बुक किया गया है। उन पर श्री कृष्णा को रिलीज किया जाएग। इस पर दूरदर्शन ने कहा आप सीरियल 'श्री कृष्णा' नहीं ला सकते। इस पर एजेंसी ने कारण पूछा गया। जिसके चलते (DD-2) डीडी-2 पर 'श्री कृष्णा' लॉन्च हो सका। इसके बाद भी इस शो को (DD-1) डीडी-1 पर नहीं लाया गया। इस पर भी बहुत हंगामा हुआ। बहुत चिट्ठियां लिखी गईं। तमाम जद्दोजहद के बाद यह धारावाहिक (DD-1) डीडी-1 पर भी प्रसारित किया गया। अब एक बार फिर से श्री कृष्णा को दूरदर्शन पर दिखाया जाएगा।

Next Story