logo
Breaking

''काल भैरव रहस्य'' को नजरअंदाज कर शादी कर रहीं अदिति गुप्ता, इस किरदार को निभाने की हैं इच्छुक

इन दिनों स्टार भारत के सीरियल ‘काल भैरव रहस्य-2’ में रहस्य और रोमांच से भरी कहानी दिखाई जा रही है। इसमें गौतम रोड़े लीड रोल में हैं, उनके किरदार के इर्द-गिर्द ही सीरियल की कहानी घूम रही है।

इन दिनों स्टार भारत के सीरियल ‘काल भैरव रहस्य-2’ में रहस्य और रोमांच से भरी कहानी दिखाई जा रही है। इसमें गौतम रोड़े लीड रोल में हैं, उनके किरदार के इर्द-गिर्द ही सीरियल की कहानी घूम रही है।

सीरियल ‘काल भैरव रहस्य-2’ में एक्ट्रेस अदिति गुप्ता भी अहम किरदार निभा रही हैं। जल्द ही वह शादी के बंधन में भी बंधने वाली हैं, सीरियल की शूटिंग के साथ-साथ अपनी शादी की तैयारियां भी कर रही हैं। कुछ दिनों पहले अदिति से सीरियल ‘काल भैरव रहस्य-2’ को लेकर लंबी बातचीत हुई। पेश है बातचीत के चुनिंदा अंश-

सीरियल ‘काल भैरव रहस्य -2’ में अपने किरदार के बारे में कुछ बताएं?

मेरे किरदार का नाम अर्चना है, वह बहुत बड़बोली है, साथ ही बहुत स्मार्ट, कॉन्फिडेंट भी है। उसके आस-पास जो घटनाएं होती हैं, उस पर वह अपनी राय जरूर रखती है। अंधविश्वासी बिल्कुल नहीं है, हर बात की तह में जाने की कोशिश करती है।

गौतम रोड़े सीरियल में लीड रोल में हैं, उनसे आपके रोल का क्या कनेक्शन है?

अर्चना, वीर से प्यार करती है। वीर के परिवार को यह श्राप मिला हुआ है कि उसके परिवार के पुरुष सदस्य तीस साल पूरे हो जाने पर जिंदा नहीं बचेंगे। वीर (गौतम रोड़े) को यह विश्वास है कि वह तीस साल के बाद जिंदा नहीं बचेगा, लेकिन अर्चना को यह बात मिथ लगती है। बरसों से घटती चली आई इस घटना पर उसका विश्वास नहीं है। अर्चना वीर से बहस करती है कि इक्कीसवीं सदी में कैसे अंधविश्वास को लेकर जी रहे हो। साथ ही वह वीर पर आने वाली मुसीबतों को भी दूर करने की कोशिश करती है।

आप अपनी पर्सनल लाइफ में अर्चना के किरदार से कितना रिलेट करती हैं?

यह एक अजीब संयोग है कि अर्चना और अदिति गुप्ता बहुत मेल खाते हैं। फर्क बस इतना है कि मैं बड़बोली नहीं हूं, लेकिन मैं स्ट्रेट फॉरवर्ड हूं। मेरी बात का विरोध होता है तो इससे मुझे फर्क नहीं पड़ता। लेकिन मैं अपनी सही बात पर अडिग रहती हूं। सीरियल में अर्चना भी अपनी बात पर टिकी रहती है। इस तरह मैं अपने किरदार अर्चना से खुद को बहुत रिलेट कर पाती हूं।

सीरियल की कहानी सुपर नेचुरल एलिमेंट्स पर बेस्ड हैं। क्या आप इन बातों में विश्वास करती हैं?

मेरे अब तक के जीवन में कोई सुपर नेचुरल घटना नहीं हुई, इसलिए कहना मुश्किल होगा, ऐसा होता है या नहीं। कुछ बातों के बारे में पक्के तौर पर कुछ नहीं कह सकते हैं।

आपकी अब तक की एक्टिंग जर्नी कैसी रही?

एक्टिंग जर्नी तो उम्मीद से ज्यादा अच्छी रही है। एक्टिंग की वजह से मैं मुंबई जैसे बड़े शहर में अकेले रहना, खुद को मैनेज करना सीख गई। मेरे लिए यह अजनबी शहर था, लेकिन अपना ठिकाना ढूंढ़ना, करियर बनाना, अपना घर, जिंदगी संवारना यह सब सीखा। एक्टिंग की वजह से ही मेरी पर्सनल ग्रोथ हुई।

कुछ और शोज भी कर रही हैं?

एक समय में एक ही सीरियल मुश्किल से मैनेज हो पाता है। हर दिन दस-बारह घंटे शूटिंग चलती है। मुंबई जैसे शहर में आने-जाने में ट्रैफिक की वजह से बहुत वक्त लगता है।

दिन के अगर बारह घंटे शूटिंग और दो से तीन घंटे की ट्रैवलिंग हो तो वक्त बचता ही कहां है? इसके अलावा जल्द ही शादी करने वाली हूं, उसकी तैयारियों में बिजी हूं।

आगे फिल्मों में जाने का इरादा है?

अगर फिल्म करूंगी तो उसमें ऐसा रोल करना चाहूंगी, जो चैलेंजिंग हो। फिल्म महज करने के लिए नहीं करनी है।

Share it
Top