logo
Breaking

एक्ट्रेस तेजस्वी प्रकाश ने कही ये बातें

राजस्थान की पृष्ठभूमि पर बने धारावाहिक ''पहरेदार पिया की'' में तेजस्वी ने दीया की भूमिका निभाई है।

एक्ट्रेस तेजस्वी प्रकाश ने कही ये बातें

एक्ट्रेस तेजस्वी प्रकाश को उनकी बेहतरीन अदाकारी के लिए जाना जाता है। जल्द ही वह धारावाहिक पहरेदार पिया की, में मुख्य किरदार निभाती नजर आएंगी।

राजस्थान की पृष्ठभूमि पर बने इस शो में तेजस्वी ने दीया की भूमिका निभाई है। दीया की शादी एक नौ साल के प्रिंस हर्षवर्धन सिंह (अफान खान) से हुई है।

इसे भी पढ़े:- बंजरंगी भाईजान में करीना की मां बनी टीवी अभिनेत्री को हुई जेल, मामला गंभीर

शो के कंसेप्ट, उसकी यूएसपी, सह-कलाकारों अफान खान, परमीत सेठी, जीतेन लालवानी और पूरी टीम के साथ उनकी इक्वेशन पर खुलकर जवाब दिए। बातचीत टीवी एक्ट्रेस तेजस्वी प्रकाश से......

आप इस शो के कंसेप्ट के बारे में कुछ और बताएंगी?

पहरेदार पिया की, रतन सिंह और दीया के पति-पत्नी के किरदारों के ईर्द-गिर्द बना हुआ शो है। रतन 9 वर्षीय राजपूत प्रिंस हैं और उनकी जिंदगी खतरे में हैं।

दीया की उनसे शादी होती है और उनकी पहरेदार बन जाती है। दोनों का आपसी रिश्ता ही उनकी ताकत है।

दीया का किरदार निभाने के लिए आपने किस तरह की खास तैयारियां की हैं?

मैं हमेशा से ऐसे किरदारों की तलाश में रहती हूं जो अलग हो और किसी और ने उस तरह का किरदार पहले कभी न निभाया हो। इस शो का कंसेप्ट अपने आप में अलग है।

पहले कभी ऐसा कोई शो नहीं आया है। नौ वर्षीय लड़के की पत्नी होने का किरदार बहुत चुनौतीपूर्ण है। दर्शकों के लिए भले ही अफान नौ साल का हो, मेरे लिए वह पेशेवर और एक बहुत अच्छा अभिनेता भी।

किन वजहों से दीया का किरदार अलग और रोचक बन पड़ता है?

दीया रतन सिंह एक 18 साल की लड़की है। वह व्यवहार से ही कमिटेड, उत्साही, रोमांटिक और अनडिप्लोमेटिक है।

व्यवहार में बहुत ही सामान्य होने के बाद भी संकट काल में उसका प्रदर्शन असाधारण हो जाता है। वह किसी से भी शादी करने को तैयार है, लेकिन वह उसकी उम्र का हो।

हालात उसे नौ वर्षीय रतन की पत्नी बना देते हैं। दीया आम तौर पर जल्दबाजी में फैसले नहीं लेती, लेकिन इस रिश्ते की ओर कदम बढ़ाने में देर नहीं लगाती।

इसके लिए किसी से परामर्श भी नहीं करती। यहीं से विनम्र दीया के पहरेदार बनने की कहानी शुरू होती है।

शो का हिस्सा बनने के लिए आपको किस बात ने प्रेरित किया?

यह एक अलग शो है। इसका कंसेप्ट भी सबसे हटकर है, जिसने मुझे इसकी ओर आकर्षित किया। भूमिका बेहद चुनौतीपूर्ण है।

अपने से आधी उम्र के व्यक्ति के साथ काम करना वैसे भी आसान नहीं रहता। इस शो के पीछे जो सोच और कंसेप्ट है, वह बेहद खूबसूरत है। इसी वजह से मैं इस शो को इनकार नहीं कर सकी।

शो का नाम पहरेदार पिया की क्यों है?

दीया की शादी 9 साल के प्रिंस से हुई है और उसकी रक्षा करना ही उसकी जिम्मेदारी है। यह कदम गैर-पारंपरिक है।

वह खुद को ऐसी परिस्थिति में पाती है, जहां प्रिंस की सुरक्षा के लिए उससे शादी करना ही एकमात्र विकल्प था।

Share it
Top