logo
Breaking

पढिए, टीवी सीरियल के उन सीन्‍स के बारे में जिन्‍हें आप कह सकते हैं CRAPS!

इन धरावाहिकों ने हमारा मनोरंजन तो किया है लेकिन इनसे हमारे रोजमर्रा की जिंदगी पर गहरा असर भी हुआ है।

पढिए, टीवी सीरियल के उन सीन्‍स के बारे में जिन्‍हें आप कह सकते हैं CRAPS!
मुंबई. टीवी सीरियल इंटरटेंमेंट के साथ ही हमारी रोजमर्रा की जिंदगी को प्रभावित करते हैं। कभी-कभी तो इन सीरियलों के कारण फैमलियों में झगड़े भी हो जाते हैं। लेकिन कभी आपने सोचा है कि इन सीरियलों में जिस तरह से किसी घटनाक्रम को फिल्‍माया जाता है वैसा वास्‍तविक जीवन में असंभव है।
ये सीरियल हमारा मनोरंजन तो करते हैं लेकिन कभी-कभी ये हमारी जीवन शैली पर अप्रत्‍यक्ष रूप से बुरा प्रभाव डाल रहे होते हैं। इन सीरियलों के कुछ सीन तो इतने कॉमन हैं कि वे सीरियलों के लिए आवश्‍य सीन हो गए हैं। इनमें फिल्‍माए जाने वाले दृष्‍यों पर यकीन करना मुश्किल हो जाता है।
आइए जानते हैं कि इन सीरियलों के वे कौन से सीन हैं जो अत्‍यधिक काल्‍पनिक और हमारी रोजमर्रा की जिंदगी से परे हैं। उहारण के तौर पर, इन सीरियलों में महिला पात्रों को हर समय भारी मेकअप और जेवरों में लदा हुआ दिखाया जाता है, जो कि वास्‍तविक जीवन में संभव नहीं है।
इस तरह के अन्‍य भी कई उदाहरण हैं जिसके तहत इन सीरियलों में बड़ी सफाई से कल्‍पनिक दृष्‍यों को दिखाया जाता है। कुछ दृश्‍य को देखकर उन्‍हें बकवास कहने में कोई हर्ज नहीं है। आइए जानते हैं इन सीरियलों के कुछ Craps सीन, जिन्‍हें देखकर आप भी उसे वास्‍तविकता से परे या सफेद झूठ कहेंगे।
सुबह के समय आपने देखा होगा कि फैमली का प्रत्‍येक मेंबर मां या फैमली के किसी अन्‍य सदस्‍य की भजन सुनकर उठता है। भजन अलार्म घड़ी की तरह काम करता है। यहां हैरानी की बात यह है कि बगैर किसी माइक के ही बड़े मकान में सभी सदस्‍य भजन की आवाज कैसे सुन लेते हैं।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, टीवी सीरियल के कुछ CRAPS-

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-
Share it
Top