Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

102 नॉट आउट रिव्यू: अमिताभ बच्चन ने बेटे ऋषि कपूर को सिखाया लव का फंडा

फिल्म मे ऋषि कपूर ने बिग बी के बेटे का किरदार निभाया है। 75 साल का बाबूलाल वखारिया (ऋषि कपूर) एक सनकी बूढ़ा है। उसकी नीरस जिंदगी में डॉक्टर से मिलने के अलावा अगर कोई खुशी और उत्तेजना का कारण है तो वह है उसका एनआरआई बेटा और उसका परिवार।

102 नॉट आउट रिव्यू: अमिताभ बच्चन ने बेटे ऋषि कपूर को सिखाया लव का फंडा
X

इन दिनों बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन और ऋषि कपूर की जोड़ी फिर से चर्चा में है। अपने बेहतरीन अभिनय से दर्शकों को फिल्म की ओर खीचने वाले ये दोनों अभिनेता एक बार फिर से बड़े पर्दे पर एक साथ वापसी कर रहे हैं। जी, हां उमेश शुक्ला के डायरेक्शन में बनी फिल्म 102 नॉट आउट में ये दोनों दिग्गज जोड़ी फिल्म प्रेमियों के मनोरंजन के लिए तैयार है। आज सिनेमाघर में अमिताभ बच्चन और ऋषि कपूर की फिल्म 102 नॉट आउट रिलीज हो गई है। सौम्या जोशी के गुजराती नाटक की कहानियों पर आधारित फिल्म 102 नॉट आउट जिंदगी के खालीपन को बखूबी ढंग से दिखा रही है।

102 नॉट आउट की कहानी

फिल्म मे ऋषि कपूर ने बिग बी के बेटे का किरदार निभाया है। 75 साल का बाबूलाल वखारिया (ऋषि कपूर) एक सनकी बूढ़ा है। उसकी नीरस जिंदगी में डॉक्टर से मिलने के अलावा अगर कोई खुशी और उत्तेजना का कारण है तो वह है उसका एनआरआई बेटा और उसका परिवार। हालांकि, अपने बेटे और उसके परिवार से वह पिछले 17 वर्षों से नहीं मिला है। बेटा हर साल मिलने का वादा करके ऐन वक्त में उसे धोखा दे जाता है।

वहीं, दूसरी ओर बिग बी ने बाबूलाल के पिता का रोल किया है। 102 वर्षीय पिता दत्तात्रेय वखारिया (अमिताभ बच्चन) बुजुर्ग होकर भी एक जवान व चुस्त व्यक्ति की तरह जीवन जीता है। एक दिन अचानक दत्तात्रेय बाबूलाल के सामने शर्तों का पिटारा रखते हुए कहता है कि अगर उसने ये शर्तें पूरी नहीं की तो वह उसे वृद्धाश्रम भेज देगा।

असल में दत्तात्रेय, धमकी देकर और शर्तों को पूरा करवाकर बाबूलाल की जीवनशैली और सोच को बदलना चाहता है। एक्टिंग के मामले में बिग बी ने ऋषि कपूर से कहीं ज्यादा प्रभावित किया है व अपने अभिनय के द्वारा अमिताभ बच्चन ने वर्तमान समय में निराशा व उदासी में जी रहे यूथ को भी सकारात्मक संदेश दिया है।

संगीत

फिल्म में सलीम सुलेमान ने अच्छा काम किया है, लेकिन फिल्म के गाने दर्शकों के बीच औसत व नाराजगी के कारण हैं।

क्यों देखें

आज के निराश युवा इस फिल्म को जरूर देखें क्योंकि फिल्म लाइफ स्टाइल पर ही आधारित है।

सार

कुल मिलाकर फिल्म पूरी तरह से कमेडी व ड्रामा मिक्स है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story