Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

किसानों ने आंदोलन लिया वापस, सरकार से कई मुद्दों पर बनीं सहमति

दिल्ली में एकबार फिर से किसान संगठन ने अपना आंदोलन वापस ले लिया है। सरकार किसानों को बीमा योजना का लाभ समेत कई मुद्दों पर समहति बन गई है।

किसानों का दिल्ली कूच : अपनी मांगों को लेकर दिल्ली पहुंचे हजारो किसान, सुरक्षा के व्यापक प्रबंधUttar pradesh farmers Conduct A March In Delhi modi government

दिल्ली में एकबार फिर से किसान संगठन ने अपना आंदोलन वापस ले लिया है। सरकार किसानों को बीमा योजना का लाभ समेत कई मुद्दों पर समहति बन गई है।लेकिन शनिवार होते ही किसानों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है। बड़ी संख्या में दिल्ली बार्डर पर पहुंच चुके हैं। इन्हें बॉर्डर पर ही रोकने के लिए भारी संख्या में पुलिसबल तैनात किए गए हैं।

भारतीय किसान संगठन ने 11 सितंबर से दिल्ली के लिए सहारनपुर से पदयात्रा शुरू की थी। वह आज गाजियाबाद- दिल्ली बॉर्डर पर पहुंच आए हैं। किसान अपनी विभिन्न मांगो को लेकर कृषि मंत्रालय के अधिकारियों से मुलाकात करेंगे। इस दौरान वह अपनी समस्याओं को बताएंगे, अपनी मांग रखेंगे। इसके लिए वह शुक्रवार से दिल्ली जाने वाले किसान ट्रांसपोर्ट नगर में इकट्ठा हो रहे हैं।

अब आशंका जताई जा रही कि अगर किसान ट्रांसपोर्ट नगर से दिल्ली के लिए निकलते हैं तो भीषण जाम लग सकता है। साथ ही अगर नोएडा से दिल्ली मार्ग पर जाम लगा तो प्रशासन के लिए आसान नहीं होगा मैनेज करना। इसीलिए दिल्ली पुलिस लगातार नोएडा पुलिस के सम्पर्क में है।

बताते चलें कि ये आंदोलन किसान संगठन के प्रदेश अध्यक्ष राजेंद्र यादव के नेतृत्व में हो रहा है। संगठन की 15 सूत्रीय मांग है, इस मांग को लेकर वह शनिवार को कृषि मंत्रालय के निदेशक एसएस तोमर से मिलेंगे।

इन 15 सूत्रीय मांग में किसानों के लिए 10 फीसदी भूमि छोड़ने, ग्रामीण आबादी के लिए व्यावसायिक गतिविधियों की नीति बनाने से लेकर गन्ना किसानों के बकाए के भुगतान को लेकर मांग है।

Next Story
Share it
Top