Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उबर रेप केस: दिल्ली हाईकोर्ट ने निचली अदालत के फैसले को रखा बरकरार

महिलाओं के खिलाफ यौन उत्पीड़न पर कड़े और नए कानूनों के बावजूद भी रेप की वारदातें बढ़ रही हैं।

उबर रेप केस: दिल्ली हाईकोर्ट ने निचली अदालत के फैसले को रखा बरकरार

महिलाओं के खिलाफ यौन उत्पीड़न पर कड़े और नए कानूनों के बावजूद भी रेप की वारदातें बढ़ रही हैं।

2014 में 25 वर्षीय महिला कर्मचारी के साथ बलात्कार के मामले में दिल्ली हाईकोर्ट ने उबर कैब ड्राइवर को निचली अदलात द्वारा दी गई उम्रकैद की सजा को कायम रखा है।

राष्ट्रीय क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो के आंकड़ों से मालूम चलता है कि 2016 में 38,947 महिलाओं के साथ बलात्कार किया गया था। जस्टिस एस मुरलीधर और विनोद गोयल की पीठ ने नोट किया है।

यह भी पढ़ें- मायावती बोलीं- सम्मानजनक सीटें मिलने पर ही होगा महागठबंधन, बीजेपी पर साधा निशाना

खंडपीठ ने हाल ही में अपने फैसले में कहा है कि अगर दूसरे शब्दों में कहा जाए तो 2016 में हर घंटे पांच बलात्कार किए गए थे!

खबरों से मिली जानकारी के अनुसार गुरुग्राम की एक कंपनी में काम करने वाली पीड़िता एक फाइनेंस एक्जीक्यूटिव के पद पर कार्यरत थी और 5 दिसंबर 2014 की रात मध्य दिल्ली के इंद्रलोक स्थित अपने घर लौट रही थी, उसी समय यह घटना हुई।

Next Story
Top