Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दो समलैगिंक महिलाओं को अभिभावकों से खतरा, दिल्ली हाईकोर्ट से मिली पुलिस सुरक्षा

दो समलैंगिक युवतियां एक दूसरे से शादी करना चाहती हैं लेकिन अपने अभिभावकों से जान का खतरा होने के बाद उन्होंने सोमवार को दिल्ली उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया जहां उन्हें पुलिस सुरक्षा मुहैया करायी गयी।

दो समलैगिंक महिलाओं को अभिभावकों से खतरा, दिल्ली हाईकोर्ट से मिली पुलिस सुरक्षा

दो समलैंगिक युवतियां एक दूसरे से शादी करना चाहती हैं लेकिन अपने अभिभावकों से जान का खतरा होने के बाद उन्होंने सोमवार को दिल्ली उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया जहां उन्हें पुलिस सुरक्षा मुहैया करायी गयी।

समलैंगिक संबंधों के संबंध में उच्चतम न्यायालय के हालिया फैसले के बाद दोनों ने उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। 20 और 21 वर्ष की दो युवतियों ने अपनी जान और आजादी के लिए खतरा होने की आशंका जताते हुए कहा कि दोनों के करीब डेढ़ साल से प्रेम संबंध हैं तथा वे दोनों साथ रहना चाहती हैं।
उन्होंने कहा कि उनके अभिभावकों ने उनके संबंधों को खारिज कर दिया और उन्हें अलग होने को कहा। इसके बाद दोनों राजस्थान से भागकर दिल्ली आ गयीं।
वरिष्ठ वकील आनंद ग्रोवर ने मुख्य न्यायाधीश राजेंद्र मेनन की पीठ के समक्ष उनकी याचिका का उल्लेख किया जिसने याचिका आज ही सूचीबद्ध करने की अनुमति दे दी। जब यह मामला न्यायमूर्ति नजमी वजीरी के समक्ष सुनवाई के लिए आया, तो उन्होंने दिल्ली पुलिस को युवतियों को उचित सुरक्षा देने का निर्देश दिया और कहा कि एक पुलिस अधिकारी प्रतिदिन युवतियों से बात करेगा।
दिल्ली पुलिस के वकील ने अदालत को यह आश्वासन भी दिया कि दोनों युवतियों के वकील को कथित तौर पर एक पुलिसकर्मी द्वारा धमकी देने की जांच की जाएगी और उचित कार्रवाई की जाएगी। युवतियों ने अपनी याचिका वकील सौरभ चौहान के जरिए दायर की है।
Next Story
Top