Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

''रेप रोको आंदोलन'' से दिल्ली को जागरुक कर रही है स्वाति जयहिंद

स्वाति जयहिंद ने दिल्ली महिला आयोग को अलग मुकाम दिया है। अब उन्होने रेप रोको आंदोलन शुरु कर दिया है।

रेप रोको आंदोलन से दिल्ली को जागरुक कर रही है स्वाति जयहिंद
X

दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) को इतनी ख्याति कभी नहीं मिली जितनी इन दिनों मिल रही है। ये डीसीडब्ल्यू अध्यक्ष स्वाति जयहिंद के ही मेहनत का नतीजा है कि आज डीसीडब्ल्यू के आंदोलनों से लोग हजारों की संख्या में नागरिक जुड़ रहे हैं। आज स्वाति के कामों की वजह से उनक नाम हर दिल्लीवासी के जबान पर है।

स्वाति ने 31 जनवरी को बलात्कारी को छह माह में फांसी दिलाने की मांग लेकर 30 दिन सत्याग्रह शुरू किया था। इस सत्याग्रह के दौरान डीसीडब्ल्यू रात-दिन काम कर रहा है। खुद स्वाति जयहिंद भी रात-दिन काम कर रही हैं। सत्याग्रह की कड़ी में उन्होंने पिछले सप्ताह रेप रोको आंदोलन शुरू किया। उनके इस आंदोलन से हजारों लोग रोजाना जुड़ रहे हैं। इस आंदेलन को शुरू हुए आज सोमवार को पूरे सात दिन हो गए हैं।
इन सात दिनों में दिल्ली के अधिकतर इलाकों में लोगों के बीच में यह चर्चा का विषय बन चुका है। जनता खुद सामने आ रही है और इस पर खुलकर चर्चा भी कर रही है। लोगों का भारी समर्थन भी मिल रहा है लोग आगे आकर अपने आपको वॉलिंटियर बनने के लिए रजिस्टर भी कर रहे हैं।
रेप रोको आंदोलन के लिए अब तक हजारों युवाओं ने वॉलंटियर के लिए रजिस्टर्ड किया है। इन सभी लोगों का मानना है कि छोटी बच्चियों के रेपिस्ट को 6 महीने में फांसी की सजा मिलनी ही चाहिए साथ ही यह स्वाति जयहिंद की सभी मांगों का समर्थन भी कर रहे हैं।
दिल्ली का राजीव चौक रेप रोको आंदोलन के पोस्टर से रंग गया है, जहां भी नजर जा रही है युवा खुद आकर इस पोस्टर को हाथ में लेकर इसका समर्थन कर रहे हैं और लोगों को जागरुक भी कर रहे हैं कि यह आंदोलन हम सबका आंदोलन है इस आंदोलन से जुड़ने के लिए 9350181181 पर सम्पर्क करे, अभी नहीं तो कभी नहीं। बात केवल 8 महीने की बच्ची का नहीं है बात हमारी और आप सबकी है, हम सबको भारत देश को रेप मुक्त बनाना ही होगा इसके लिए जरूरी है कि उन दरिंदों के मन में एक डर पैदा हो तभी यह अपराध रुक सकता है।

फास्ट ट्रैक कोर्ट की संख्या बढ़े

देश में फास्ट ट्रैक कोर्ट की संख्या ज्यादा से ज्यादा होनी चाहिए, छोटी बच्चियों के रेपिस्ट को तुरंत फांसी की सजा होनी चाहिए तभी डर पैदा होगा, आज किसी को डर ही नहीं है जनता रेप रोको आंदोलन और स्वाति जयहिंद की डिमांड को जनता बिल्कुल जायज बता रही है।

किन्नर भी जुड़ रहे हैं आंदोलन से

अभी जो सिस्टम है उसके अनुसार रेप करो, जेल काटो और वापस आ जाओ, ऐसे कई लोग हैं जो जेल से वापस आने के बाद भी रेप में दोबारा से पकड़े गए हैं ऐसे लोगों को तो तुरंत फांसी की सजा होनी चाहिए। दिल्ली के किन्नर भी रेप रोको आंदोलन का समर्थन कर रहे हैं।

कई बार पकड़वा चुकी है अवैध शराब

स्वाति जयहिंद अवैध शराब और ड्रग्स के धंधे को बंद करने के लिए भी अपना अभियान छेड़े हुए हैं। शनिवार को जहां इन्होंने अलीपुर के डीडीए पार्क से अवैध शराब बरामद करवायी। इससे पहले डूसिब के शौचालय में अवैध शराब बेचते वहां दो लोगों को पकड़वाया। इसके अलावा वह दिल्ली के नरेला और बुराड़ी इलाके में कई जगह अवैध शराब पकड़वा चुकी हैं। नरेला में शराब मफिया द्वारा आयोग की वालंटियर को घायल करने पर उन्होंने अपना जबरदस्त अभियान शुरू किया और कई शराब माफियाआें को पकड़वाया।

आश्रम से छुड़वाई लड़कियां

स्वाति ने एक अभियान चलाकर लगातार खुद बाबा विरेन्द्र देव दीक्षित के आध्यात्मिक केन्द्र में जाकर लड़कियों को छुड़वाया जहां उनका शोषण किया जा रहा था। वह अदम्य साहस के साथ बिना किसी भय के इन सभी के खिलाफ अभियान छेड़े हुए हैं। उनका एक मात्र उद्देश्य महिला की सुरक्षा और उनके हितों की रक्षा करना है।

क्या हम पाकिस्तान से भी गए गुजरे हैं? : स्वाति जयहिंद

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति जयहिंद का कहना है कि जब पाकिस्तान की 6 साल की बेटी जैनब के रेप और मर्डर पे वहां की कोर्ट ने 1 महीने में फैसला सुना के दोषी को फांसी की सजा दे दी। जब पाकिस्तान में 1 महीने में न्याय मिल सकता है तो भारत में क्यों नही। क्या हम पाकिस्तान से भी गए गुजरे हैं? छोटी बच्चियों के बलात्कारियों को 6 महीने में फांसी की सजा का प्रावधान सरकार करें।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story