Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अवैध तरीके से ई-रिक्शा चार्जिंग पर मिली छह महीने की जेल

दिल्ली में अवैध तरीके से बैटरी के ई रिक्शा रिचार्च करने पर छह महीने जेल की सजा और करीब 9 लाख बिल साथ में 10 हजार का जुर्माना भरना पड़ेगा वो अलग।

सांकेतिक फोटोसांकेतिक फोटो

दिल्ली में अवैध तरीके से बैटरी के ई रिक्शा रिचार्च करने पर छह महीने जेल की सजा और करीब 9 लाख बिल साथ में 10 हजार का जुर्माना भरना पड़ेगा वो अलग। मामला जहांगीरपुरी क्षेत्र का है। इस बारे में टाटा पावर के प्रवक्ता ने बताया कि बुधवार को माननीय विशेष विधुत न्यायालय रोहिणी ने बिजली चोर, मनोज पुत्र रमेश कुमार को जहांगीर पुरी क्षेत्र में ई-रिक्शा के लिए बिजली चोरी करने का दोषी करार दिया।

न्यायालय ने उस शख्स को 6 महीने कैद की सजा सुनाई है। वह 650 वॉट प्रति रिक्शा बिजली लोड की क्षमता से 19 रिक्शाओं के अवैध चार्ज में शामिल था। कोर्ट ने सिविल देयता के रुपये 8.99 लाख का निर्धारण और बिजली चोरी के लिए रुपये 10 हजार रूपए का जुर्माना प्रस्तावित किया है।

चोर को भारतीय विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 135 के तहत दोषी ठहराया गया। माननीय अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश, श्री सुनील राणा, विशेष विद्युत न्यायालय, रोहिणी ने दोषी पर नागरिक दायित्व का निर्धारण करते हुए आठ लाख निन्यानवे हज़ार रुपये और दस हज़ार रुपये का जुर्माना लगाया।

अदालत ने कहा कि माननीय न्यायालय द्वारा पारित सजा को समाज में अन्य लोगों के लिए एक मिसाल के रूप में रखना है, जो ऐसे अपराधों में लिप्त हो अथवा यह मानते हैं की वे अपराध कर सजा से बच सकते हैं। इसलिए, ऐसे मामलों में एक उदार दृष्टिकोण समाज को एक गलत संदेश दे सकता है और इसलिए, न्याय के साथ ऐसे उदहारण प्रस्तुत किये जायेंगे।

Next Story
Share it
Top