Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ताली बजाने के बजाय किन्नर अब करेंगी पब्लिक डीलिंग

किन्नर वर्ग के नागरिकों को अब तक आपने सड़कों, चौराहों पर भीख मांगते हुए या फिर शादी समारोह, किसी नवजात के जन्मोत्सव के मौके पर शगुन मांगते हुए देखा होगा, लेकिन अब यदि सरकारी कार्यालयों में पब्लिक डीलिंग के दौरान भी ये दिख जाऐं तो चौंकिए मत।

ताली बजाने के बजाय किन्नर अब करेंगी पब्लिक डीलिंग
X

किन्नर वर्ग के नागरिकों को अब तक आपने सड़कों, चौराहों पर भीख मांगते हुए या फिर शादी समारोह, किसी नवजात के जन्मोत्सव के मौके पर शगुन मांगते हुए देखा होगा, लेकिन अब यदि सरकारी कार्यालयों में पब्लिक डीलिंग के दौरान भी ये दिख जाऐं तो चौंकिए मत।

क्योंकि अब राजधानी दिल्ली में दिल्ली सरकार के उत्तरी राजस्व विभाग के अंतर्गत आने वाले अलीपुर एसडीएम कार्यालय में इन्हें कार्य करते हुए आसानी से देखा जा सकता है। यहां दिव्यांग आईएएस एसडीएम इरा सिंघल ने बताया कि अब वे दिन लद गये जब लोग इन्हें तीसरे वर्ग में आंकने का प्रयास करते थे।

अब ये भी मुख्यधारा में जुडकर जनता से जुड़े हुए कार्य करेंगे। एसडीएम सिंघल ने बताया कि उनके पास एक एनजीओ के माध्यम से किन्नर वर्ग से पढ़े लिखे किन्नर अपना स्टार्टअप करने के उद्देश्य से आये थे लेकिन जब उनको बताया गया कि ब्यूटी पार्लर और सिलाई सेंटर पहले से ही बहुत हैं, और ऐसे में आप लोगों के पास कौन आएगा?

उनको भी लगा कि बात सही है। पढ़ी लिखी होने के चलते किन्नर गजल को एसडीमए ऑफिस में रखा गया है। किन्नर गजल का कहना है कि उन्होंन इस साल बीए में प्रथम वर्ष की परीक्षा दी है।

एसडीएम इरा सिंघल का कहना है कि शुरूआती दौर में हो सकता हैं इन्हें दिक्कत आए, लेकिन कोशिश यही है कि आने वाले दिनों में सब ठीक हो जाएगा। आने वाले दिनों में अन्य किन्नरों को रखने पर भी विचार किया जा सकता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top