Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली: ''बलात्कारी बाबा'' के चंगुल से छुड़ाई गईं 41 मासूम, अभी इतनी और लड़कियां फंसी हैं आश्रम में

दिल्ली के रोहिणी के विजय विहार स्थित आध्यात्मिक विश्वविद्यालय में तीसरे दिन छापेमारी के बाद पुलिस टीम और महिला आयोग ने 41 नाबालिग बंधक लड़कियों को बाहर निकाल लिया है।

दिल्ली:

दिल्ली के रोहिणी के विजय विहार स्थित आध्यात्मिक विश्वविद्यालय में तीसरे दिन छापेमारी के बाद पुलिस टीम और महिला आयोग ने 41 नाबालिग बंधक लड़कियों को बाहर निकाल लिया है।

इसके बाद डॉक्टर की एक टीम बुलाकर बाहर निकाली गई लड़कियों का मेडिकल करवाने की कोशिश की गई लेकिन लड़कियों ने ऐसा करने से मना कर दिया। आश्रम से छुड़ाई गई सभी लड़कियों को शेल्टर होम भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें- पाक में नाबालिग हिंदू लड़की अगवा, धर्म परिवर्तन करा किया निकाह

महिलाओं ने आश्रम से बाहर आने से किया मना

जानकारी के मुताबिक, आश्रम में अभी भी 150 लड़कियां व महिलाएं हैं। जिन्होंने बाहर आने से मना कर दिया है।

महिला आयोग की टीम फिलहाल इस बात की जांच कर रही है कि कहीं इनमें से कोई नाबालिग तो नहीं है, जो अंदर हैं। बताया जा रहा है कि आश्रम का संचालक अभी भी फरार है।

14 ताले तोड़ 41 लड़कियां छुड़ाईं

पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, पुलिस व दिल्ली महिला आयोग की टीम गुरुवार सुबह फिर से आश्रम पर छापेमारी करने पहुंची और जब आश्रम के लोगों से कमरे की चाबियां मांगी गई तो उन्होंने देने से मना कर दिया।

जिसके बाद पुलिस ने करीब 14 दरवाजों के ताले तोड़ दिए और यहां से 41 नाबालिग लड़कियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया।

बेसुध हालत में मिली लड़कियां

सूत्रों को ये भी कहना है कि आश्रम में करीब 200 महिलाएं और लड़कियां हैं, जिसमें से 41 नाबालिग हैं। पुलिस ने बताया कि लड़कियां बेसुध हालत में आश्रम से निकाली गई हैं और अभी कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं है।

यह भी पढ़ें- इस शख्स ने 2 पत्नियों को कार में बंद कर जिंदा जलाया, बताई ये वजह

वहीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा कि आश्रम में जो भी महिलाएं हैं उन्हें निकालकर नारी निकेतन में रखा जाना चाहिए और सभी की काउंसलिंग भी करवाई जानी चाहिए, जिससे सच्चाई सामने आए।

पुलिस को शक है कि आश्रम के लोगों ने कई लड़कियों को यहां से हटा दिया है। फिलहाल पुलिस इस मामले में एक चौकीदार और कुछ अनुयायी को हिरासत में लेकर पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

Next Story
Top