Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली में 9 लाख पेड़ों की है कमी, फिर भी कटेंगे 20 हजार से ज्यादा पेड़, हाईकोर्ट पहुंचा मामला

दिल्ली में पेड़ों की कटाई को लेकर राजनीति गरमाती जा रही है। तमाम नेता पेड़ों की कटाई पर बयानबाजी कर रहे है। वहीं, दक्षिणी दिल्ली में पेड़ों की कटाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरु हो गया है।

दिल्ली में 9 लाख पेड़ों की है कमी, फिर भी कटेंगे 20 हजार से ज्यादा पेड़, हाईकोर्ट पहुंचा मामला

दिल्ली में पेड़ों की कटाई को लेकर राजनीति गरमाती जा रही है। तमाम नेता पेड़ों की कटाई पर बयानबाजी कर रहे है। वहीं, दक्षिणी दिल्ली में पेड़ों की कटाई के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरु हो गया है।

पेड़ों की कटाई पर रोक लगाने के लिए केके मिश्रा ने दिल्ली हाईकोर्ट में जनहित याचिका लगाई है। केके मिश्रा ने कहा कि दक्षिणी दिल्ली में 20000 से ज्यादा पेड़े कटेंगे।
मिश्रा ने आगे कहा कि कैग कि रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में 9 लाख पेड़ों की कम है। मुझे उम्मीद है कि कोर्ट पेड़ों की कटाई के आदेश पर रोक लगाएगा।
वहीं, केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह ने कहा कि जब तक मैं मंत्री हूं एक भी पेड़ नहीं कटेगा और यदि कटता है तो 10 पेड़ों को लगाना होगा। दक्षिण दिल्ली में 7 कलोनियों के पुनर्विकास के बाद तीन बार ग्रीन कवर बढ़ेगा।
आपको बता दें कि दक्षिणी दिल्ली में 7 कलोनियों का पुनर्विकसित किया जाना है। जिसकी वजह से 16500 पेड़ों की कटाई होनी है। पेड़ों की कटाई को लेकर स्थानीय लोग विरोध प्रदर्शन करने लगे हैं।
वहीं नेशनल बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन कोर्पोरेशन लिमिटेड (एनबीसीसी) के प्रबंधन निदेशक अनुप कुमार मित्तल ने इस मामल पर सफाई दी है। उन्होंने कहा कि हमें कुल 3600 पेड़ों की काटने है, ना कि 16000। अन्य 4 कलोनियों में सीपीड्ब्ल्यू द्वारा विकसित किया जाएगा, जहां पेड़ों की संख्या बहुत कम है।
Next Story
Top