Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

150 फुट लंबी सुरंग बनाकर करते थे पेट्रोल चोरी, एक धमाके से हुआ खुलासा

चोरों ने पेट्रोल चोरी करने के लिए 150 फुट लंबी सुरंग बनाई। सुरंग बनाने के बाद उन्होंने पेट्रोल की पाइपलाइन में वॉल्व फिट करके पेट्रोल चोरी करने का इंतजाम किया।

150 फुट लंबी सुरंग बनाकर करते थे पेट्रोल चोरी, एक धमाके से हुआ खुलासा

दिल्ली के द्वारका में पेट्रोल चोरी का हैरान करने वाला मामला आया है। चोरों ने पेट्रोल चोरी करने के लिए 150 फुट लंबी सुरंग बनाई। सुरंग बनाने के बाद उन्होंने पेट्रोल की पाइपलाइन में वॉल्व फिट करके पेट्रोल चोरी करने का इंतजाम किया।

पेट्रोल चोरी का पता मंगलवार रात को पता चला। चोर जब पेट्रोल चुराने के लिए पाइपलाइन में वॉल्व फिट कर रहे थे तभी धमाका हो गया। यह धमाका इतना तेज था कि आस-पास के मकान भी हिल गए। धमाका होने से आस-पास के लोगों में हड़कंप मच गया और इसकी सूचना पुलिस को दी।

इसे भी पढ़ेंः भारत-आसियान के 25 साल पूरे, गणतंत्र दिवस से पहले मोदी करेंगे द्विपक्षीय बैठक

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस फोर्स, बीएसएफ की टुकड़ी, बम और डॉग स्क्वॉड, कमांडो की टीमें घटनास्थल पहुंची। घटनास्थल से मुख्य आरोपी को पकड़ लिया गया जबकि उसके दो साथी फरार हो गए।

कई धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज

द्वारका नॉर्थ थाने में एक्सप्लोसिव ऐक्ट, पेट्रोलियम ऐंड मिनरल पाइपलाइंस ऐक्ट, पब्लिक प्रॉपर्टी डैमेज समेत संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। बुधवार देर शाम तक पाइपलाइन की रिपेयिरिंग का काम चल रहा था।

पकड़े गए आरोपी ने किया खुलासा

  • गिरफ्तार आरोपी की पहचान दरियागंज निवासी मोहम्मद तनवीर के रूप में हुई है।
  • पांच महीने पहले इस प्लॉट को कबाड़ गोदाम और कारों के बंपर रिपेयर करने के नाम पर किराए पर लिया था।
  • आरोपी को पता था कि यहां से करीब 10 मीटर की दूरी पर रोडसाइड ही आईओसी की पाइपलाइन जा रही है।
  • यह पाइपलाइन पानीपत से बिजवासन आईओसी के डिपो तक जा रही है।
  • आरोपी ने जिस ओपन प्लॉट को किराए पर लिया, वह टू साइड ओपन है।
  • आरोपियों ने 3 महीने पहले से सुरंग खोदना शुरू किया था। आसपास के लोगों को इसकी भनक नहीं थी।
  • करीब पांच फुट चौड़ी और 10 फुट गहरी अंदर ही अंदर 150 फुट सुरंग बनाई गई।
  • जब पाइपलाइन तक पहुंच गए, तब वहां सुराख किया। उसमें छेद करके 2 इंच का प्लास्टिक पाइप डाल दिया।
  • अंदर ही कैन लेकर सुरंग से होते हुए जाते थे और वहां से पेट्रोल की चोरी करके निकल आते थे।
  • 21 जनवरी से आईओसी डिपो को कंप्यूटराइज सिस्टम में प्रेशर कम दिखाई देने लगा।
  • आईओसी की सुरक्षा टीम पाइपलाइन में सेंध की खोजबीन कर रही थी लेकिन मंगलवार रात को हुए अचानक धमाके के बाद पूरी साजिश का खुलासा हो गया। धमाके की वजह अचानक गैस का बनना बताया जा रहा है।
Next Story
Top