Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इस उम्र के बच्चे को नहीं मिलेगा नर्सरी में एडमिशन, बढ़ेंगी पेरेंट्स की मुश्किलें

नर्सरी एडमिशन प्रोसेस हर साल की तरह इस साल भी जनवरी से शुरू होगा।

इस उम्र के बच्चे को नहीं मिलेगा नर्सरी में एडमिशन, बढ़ेंगी पेरेंट्स की मुश्किलें

नर्सरी एडमिशन प्रोसेस हर साल की तरह इस साल भी जनवरी से शुरू होगा। लेकिन अभी इसका अभी शेड्यूल आना बाकी है। लेकिन ऐसा कयास लगाया जा रहा है कि अगले हफ्ते इसके लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाएगा।

इस बार नर्सरी एडमिशन के लिए पेरेंट्स की मुश्किलें नए स्लैब (एंट्री लेवल क्लासेज में अपर एज क्राइटेरिया) को देखते हुए बढ़ सकतीं हैं।

1 जनवरी से शुरू होगा एडमिशन

फिलहाल मैनेजमेंट कोटा, डिस्टेंस फैक्टर समेत बाकी एडमिशन क्राइटेरिया जैसे फैक्टर पिछले साल की तरह ही होंगे। शिक्षा निदेशालय के मुताबिक, 1 जनवरी से नर्सरी समेत सभी एंट्री लेवल क्लासेज में एडमिशन प्रोसेस शुरू करने की उम्मीद है।

एक अधिकारी के अनुसार, जल्द ही शिक्षा निदशालय द्वारा नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाएगा। इसके अनुसार लगभग 1700 स्कूलों की सवा लाख सीटों के लिए यह एडमिशन प्रोसेस होगा। जानकारी के अनुसार, इस साल नर्सरी एडमिशन में अपर एज लिमिट लागू की जा रही है।

एजुकेशन डिपार्टमेंट के एक अधिकारी के मुताबिक, 3-4 साल के बच्चे नर्सरी, 4-5 साल के KG और 5-6 साल तक के बच्चे क्लास वन के लिए एडमिशन ले सकते हैं। यह ऐज क्राइटेरिया 31 मार्च के हिसाब से देखा जाएगा।

यह नियम कई पैरेंट्स के लिए मुश्किल बनकर आएगा। कई पैरेंट्स 3 साल की उम्र में अपने बच्चों का एडमिशन नहीं कराते क्योंकि नर्सरी के लिए 3 साल का बच्चा उन्हें छोटा लगता है। इसलिए जिन पैरेंट्य ने 3 साल की उम्र में अपने बच्चों का एडमिशन नर्सरी में नहीं कराया होगा, इस साल उनका बच्चा 4 साल से अगर एक महीने भी ऊपर हुआ तो उन्हें नर्सरी में दाखिला नहीं मिल सकेगा।

वहीं ऑल इंडिया पेरेंट्स एसोसिएशन के प्रेसिडेंट अशोक अग्रवाल का कहना है कि अपर एज लिमिट का रूल बिल्कुल गलत है। हालांकि अब एडमिशन के लिए शिक्षा निदेशालय की गाइडलाइंस आने के बाद ही सारी चीजें आगे के लिए तय हो पाएंगी।

Next Story
Top