Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

गोदाम में आग लगने से लाखों का माल जलकर खाक, युवक की मौत

दिल्ली के तुगलगाबाद में एक गोदाम में आग लगने से लाखों का सामान जल गया, उसकी चपेट में आने से एक युवक की मौत हो गई।

सांकेतिक फोटोसांकेतिक फोटो

दिल्ली के तुगलकाबाद इलाके के छुरिया मोहल्ले में सोमवार देर रात दो गोदामों में आग लग गई। आग की चपेट में आकर एक युवक की मौत हो गई, जबकि लाखों रुपये का माल जलकर राख हो गया। आग को बुझाने में करीब 30 गाड़ियों को लगभग पांच घंटे की मशक्कत करनी पड़ी। आग बुझाने के दौरान एक दमकलकर्मी के चोटिल होने की भी सूचना है।

पुलिस के अनुसार तुगलकाबाद के छुरिया मोहल्ले में करीब 500 गज के प्लाट में गुड्डू नामक शख्स का कबाड़ का गोदाम है। इसमें तीन-चार झुग्गियां भी बनी हुई थी। गुड्डू के यहां काम करने वाले सात लोग यहां रहते थे। इसमें तीन महिलाएं व चार पुरुष शामिल थे। सोमवार देर रात करीब साढजे शार्ट सर्किट के कारण गुड्डू के कबाड़ गोदाम में आग लग गई।

प्लास्टिक व कागज के कबाड़ में आग लगने के चलते कुछ ही देर में आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। आग की भयावहता को देख आस-पड़ोस के लोग भी अपने घरों से बाहर निकल गये। कबाड़ गोदाम में मौजूद छह लोगों को भी बाहर निकाल लिया गया, लेकिन 45 वर्षीय मास्टर आग की चपेट में आ गया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

फायर अफसरों ने बताया कि मंगलवार सुबह 5.40 बजे आग पर तो काबू पा लिया गया, लेकिन धुआं उठा रहा था। ऐसे में एहतियात के तौर पर तीन दमकल गाड़ियां मौके पर रोककर कूलिंग का काम जारी रखा गया। शाम करीब साढ़े चार बजे कूलिंग का काम खत्म हुआ।

वहीं पुलिस अफसरों ने बताया कि आग बुझने पर मास्टर का शव बरामद हुआ। उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। उसके परिजनों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। मामले में कबाड़ गोदाम के मालिक गुड्डू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

बगल के गोदाम को भी चपेट में लिया

कबाड़ गोदाम के बराबर में ढाई मंजिला बिल्डिंग में रमेश गुप्ता का कपड़े का गोदाम है। उनकी बिल्डिंग की दीवार में जगह-जगह छोटे-छोटे छेद बने हुए थे, जिनके जरिये आग उनके गोदाम में भी पहुंच गई और पूरे गोदाम को अपनी चपेट में ले लिया। आग के कारण कपड़े के गोदाम में ग्राउंड, प्रथम व द्वितीय तल पर रखा लाखों का माल जलकर राख हो गया।

जले माल की कीमत करीब 70 लाख बताई गई है। इस दौरान आग बुझाने के लिये जुटे दमकलकर्मी दयाराम मीणा भी चोटिल हो गए। उन्होंने बातचीत में बताया कि वह प्रथम तल पर पहुंचकर आग बुझा रहे थे। इसी बीच ऊपर से लेंटर का कुछ हिस्सा टूटकर उनके ऊपर आ गिरा। इसके कारण वह प्रथम तल से ग्राउंड फ्लोर पर जा गिरे। उनके पैर, हाथ व कमर में अंदरुनी चोट आई है।

Next Story
Share it
Top