Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गरीब महिलाओं के बनाए कपड़ों को मिला ''माहिरी'' नाम, स्किल डवलपमेंट प्रोग्राम से मिलेगी सफतला

गरीब महिलाओं को स्वावलंबी बनाकर मुख्य धारा में लाने की दिशा में कार्यरत विजन फॉर ओसिस वेव्स सोयाइटी (वोव्स) नामक गैर सरकारी संस्था ने शनिवार शाम कांस्टिट्यूशन क्लब में कपड़ों का नया ब्रांड माहिरी लॉन्च किया।

गरीब महिलाओं के बनाए कपड़ों को मिला

गरीब महिलाओं को स्वावलंबी बनाकर मुख्य धारा में लाने की दिशा में कार्यरत विजन फॉर ओसिस वेव्स सोयाइटी (वोव्स) नामक गैर सरकारी संस्था ने शनिवार शाम कांस्टिट्यूशन क्लब में कपड़ों का नया ब्रांड माहिरी लॉन्च किया। इन कपड़ों को जेजे कालोनियों में रहने वाली गरीब महिलाओं द्वारा तैयार किया गया था।

नार्थ एमसीडी के मेयर आदेश गुप्ता, सोशल वेलफेयर मंत्री राजेंद्र गौतम, डीसीडब्ल्यू की पूर्व अध्यक्ष बरखा शुक्ला, सांसद प्रवेश वर्मा की पत्नी स्वाति वर्मा, फैशन डिजाइन काउंसिल आॅफ इंडिया के चेयरमैन सुनील सेठी, एक्टर राहुल राय, डीसीपी भीष्म सिंह कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंचे।

वोव्स की फाउंडर चेयरमैन सलमा फ्रांसिस और एग्जीक्यूटिव मेंबर अमिन्दर प्रीत के प्रयासों और ओएनजीसी द्वारा प्रायोजित गौतमपुरी और मदरपुर खादर जेजे कालोनी में छह महीने का कटिंग एंड टेलरिंग कोर्स चलाया गया।

इसमें इलाके की महिलाओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। इस कोर्स के दौरान महिलाओं द्वारा बनाये कपड़ों को जानी जानी मानी मॉडल और फेमिना मिस इंडिया 2014 कोयल राणा और मिस यूनाइटेड नेशंस 2017 अमीशा ने रैंप वॉक के जरिये नये ब्रांड के तौर पर पेश किया।

इस दौरान प्रस्तुत किये गये कई रंगारंग व सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अलावा नुक्कड़ नाटक ने सबका मन मोह लिया। मशहूर डिजाइनर और सामाजिक कार्यकर्ता प्रीति घई, दिल्ली क्लब हाउस के मालिक मारुत सिक्का, वोव्स की सेक्रेटरी कल्यानी, सुखमंच थियेटर की निदेशक शिल्पी मारवाह ने भी कार्यक्रम में अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई।

कार्यक्रम में मौजूद सभी मेहमानों ने इस नये ब्रांड की जमकर सराहना की। गौरतबल है कि संस्था कई सालों से गरीब बच्चों को शिक्षा, चिकित्सा और महिलाओं को कानूनी सलाह के साथ-साथ रोजगार के अवसर मुहैया करवा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपने और भारत सरकार के स्किल डवलपमेंट प्रोग्राम को गति देने का भी प्रयास कर रही है।

Next Story
Top