Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली में प्रदूषण के स्तर में थोड़ा सुधार लेकिन हालात अभी भी ''बहुत खराब''

दिल्ली में प्रदूषण का स्तर थोड़ा कम हुआ है लेकिन हालात अभी भी बेहद गंभीर बने हुए है। सीपीसीबी के अनुसार दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक 346 दर्ज किया गया जो ''बहुत खराब'' की श्रेणी में आता है।

दिल्ली में प्रदूषण के स्तर में थोड़ा सुधार लेकिन हालात अभी भी

दिल्ली में शनिवार को प्रदूषण का स्तर थोड़ा कम हुआ है लेकिन यह अभी भी 'बहुत खराब' की श्रेणी में बना हुआ है। केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 346 दर्ज किया गया जो 'बहुत खराब' की श्रेणी में आता है।

वजीरपुर इलाके को गंभीर वायु गुणवत्ता में जबकि 34 अन्य इलाकों को बहुत खराब की श्रेणी में रखा गया है। हवा में निलंबित कण या पीएम 2.5 का स्तर 175 दर्ज किया गया। यह कण पीएम 10 से भी छोटे होते हैं और सेहत को ज्यादा नुकसान पहुंचाते हैं।

इसे भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश: सरयू किनारे भगवान राम की भव्य मूर्ति लगाने का आजम खान ने किया स्वागत

केन्द्र द्वारा संचालित वायु गुणवत्ता पूर्वानुमान एवं अनुसंधान प्रणाली (एसएएफएआर) के आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में पीएम10 का स्तर 302 पर बना हुआ है।

एसएएफएआर के अनुसार पांच नवम्बर से प्रतिकूल मौसम के हालात होने की आशंका से वायु गुणवत्ता 'गंभीर' श्रेणी में आ सकती है। पर पांच नवम्बर तक हालात ऐसे ही बने रह सकते है।

इसे भी पढ़ें- अयोध्या में हिंदुओं को बुलाओ, 6 दिसंबर को होगा राम मंदिर का शिलान्यास: साध्वी प्राची

उन्होंने बताया कि दिल्ली में पीएम 2.5 प्रदूषण का दस फीसदी हिस्सा, पराली जलाने से आया है।

आपको बता दें कि सूचकांक शून्य से 50 तक होने पर हवा को 'अच्छा', 51 से 100 होने पर 'संतोषजनक', 101 से 200 के बीच 'सामान्य', 201 से 300 से 'खराब', 301 से 400 तक 'बहुत खराब' और 401 से 500 के बीच को 'गंभीर' श्रेणी में रखा जाता है।

Next Story
Top