Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

#Pollution: जानिए कौन सा वाहन फैलाता है कितना प्रदूषण

देश की राजधानी दिल्ली में प्रदूषण से लोगों का बुरा हाल है। सर्दियों का मौसम प्रदूषण के लिहाज से सबसे गंभीर होता है।

#Pollution: जानिए कौन सा वाहन फैलाता है कितना प्रदूषण
X

देश की राजधानी दिल्ली में प्रदूषण से लोगों का बुरा हाल है। सर्दियों का मौसम प्रदूषण के लिहाज से सबसे गंभीर होता है। नवंबर महीने की शुरुआत से ठीक पहले चारों ओर स्मॉग की चादर, हवा को जहरीला बना देती है।

दमघोंटू हवा का आलम यह है कि मॉर्निंग वॉक करने वालों से लेकर स्कूल जाने वाले बच्चों का काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण पर सुनवाई के दौरान दिल्ली सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि 40 लाख वाहनों का रजिस्ट्रेशन रदद कर दिया है।

इसके अलावा दिल्ली सरकार ने बताया कि कोर्ट के निर्देश का पालन करते हुए राजधानी में 10 साल से पुराने डीजल और 15 साल पुराने पेट्रोल वाहनों को चलाने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

ये वाहन फैलाते हैं प्रदूषण..

पीएम 2.5 के लिए सिर्फ वाहनों का आंकड़ा देखा जाए तो इससे होने वाले प्रदूषण का कुल योगदान लगभग 28 प्रतिशत है। इस 28% में ट्रक- ट्रैक्टर से सबसे ज्यादा 9 प्रतिशत प्रदूषण फैलता है।

दो पहिया वाहनों से सात प्रतिशत, तीन पहिया वाहनों से पांच प्रतिशात, चार पहिया वाहनों से तीन प्रतिशत और बसों से तीन प्रतिशत प्रदूषण फैलता है। साथ ही एलसीवी वाहन सिर्फ एक प्रतिशत प्रदूषण फैलाते हैं।

इन वजहों से भी फैलता है प्रदूषण..

जानकारी के लिए आपको बता दें कि दिल्ली में पीएम 2.5 के स्तर में धूल से फैलने वाले प्रदूषण का योगदान 18 प्रतिशत है। इस 18 प्रतिशत में सड़क पर धूल से तीन प्रतिशत, निर्माण कार्य से एक प्रतिशत और अन्य वजहों से 13 प्रतिशत प्रदूषण फैलता है।

वहीं पीएम 2.5 के स्तर में उद्योग (इंडस्ट्री) का प्रदूषण फैलाने में तीस प्रतिशत का योगदान है। इस तीस प्रतिशत में पावरस प्लांट से छह प्रतिशत, ईंटों से आठ प्रतिशत, स्टोन क्रशर से दो प्रतिशत और छोटी-बड़े उद्योग से 14 प्रतिशत प्रदूषण फैलता है। जबकि दिल्ली में रिहायशी इलाकों का प्रदूषण को फैलाने में दस प्रतिशत योगदान है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story