Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जामिया यूनिवर्सिटी के बाहर फायरिंग, छात्रों ने किया प्रदर्शन

नई दिल्ली की जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के बाहर रविवार देर रात फायरिंग से छात्रों में गुस्सा व्याप्त है। छात्रों द्वारा देर रात जामिया नगर थाने के बाहर जमकर प्रदर्शन किया और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की गई।

जामिया यूनिवर्सिटी के बाहर फायरिंग छात्रों ने किया प्रदर्शनजामिया में विरोध प्रदर्शन (फाइल फोटो)

नई दिल्ली की जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के बाहर रविवार देर रात फायरिंग से छात्रों में गुस्सा व्याप्त है। छात्रों द्वारा देर रात जामिया नगर थाने के बाद जमकर प्रदर्शन किया और पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की गई। फायरिंग का एक वीडियो और चश्मदीद पुलिस को मिला है जिसके जरिये आरोपियों तक पहुंचने का प्रयास किया जा रहा है।पुलिस ने केस को लेकर एफआईआर भी दर्ज कर ली है। बता दें कि जामिया, शाहीन बाग और न्यू फ्रेंडस कालोनी इलाके में गत चार दिनों के भीतर फायरिंग की तीन घटनाएं सामने आ चुकी हैं। इनमें दो आरोपियों को मौके पर ही पकड़ लिया गया था। पुलिस ने लगातार सामने आ रही फायरिंग की घटनाओं के मद्देनजर इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी है।

रविवार रात जामिया नगर इलाके में हुई इस फायरिंग की घटना पर पुलिस ने अबुल-फजल एंक्लेव निवासी युसूफ खान के बयान पर हत्या के प्रयास और आर्म्स एक्ट का मुकदमा दर्ज किया है। युसूफ खान ने पुलिस को बताया वह पेशे से इंटीरियर डिजाइनर है। बीती रात वह पत्नी के साथ खाना खाकर हौली फैमिली अस्पताल की तरफ से जामिया नगर मेट्रो स्टेशन की ओर जा रहा था। जब वह जामिया यूनिवर्सिटी के गेट नंबर सात के नजदीक पहुंचा, तो उसने देखा टू-व्हीलर पर दो लड़के आए।

पीछे वाले ने खड़े होकर एक गोली हवा में चलायी और फिर वह पिस्टल को हवा में लहराते हुए हौली फैमिली अस्पताल की ओर से फरार हो गए। यह घटना रात करीब साढ़े 11 बजे हुई। नागरिकता कानून के विरोध में चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच फायरिंग की यह तीसरी घटना है। इस घटना से गुस्साए जामिया के छात्र व स्थानीय नागरिकों ने देर रात जामिया नगर थाने के बाहर पहुंच जमकर हंगामा किया। इसके बाद स्थानीय थानाध्यक्ष उपेन्द्र कुमार और एसीपी जगदीश यादव ने उन्हें समझा बुझाकर तुरंत एफआईआर दर्ज करवाई। बहरहाल, पुलिस पूरे घटना वाले रुट पर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को चैक कर कर रही है। एक फुटेज में लाल रंग की स्कूटी दिखाई देने की बात सामने आ रही है। पुलिस घटना के समय मौजूद कुछ लोगों से पूछताछ कर जानकारी जुटा रही है।

अभी तक खोखा बरामद नहीं

डीसीपी चिन्मय बिश्वाल के बाद साउथ-ईस्ट जिले की कमान संभाल रहे अडिशनल डीसीपी कुमार ज्ञानेश ने बताया कि जामिया नगर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है और मामले की जांच चल रही है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि पुलिस को घटनास्थल से कोई खोल नहीं बरामद हुआ है। गोली चलती है, तो उसके खोल घटनास्थल पर ही छूट जाते हैं, लेकिन इस केस में ऐसा नहीं है। लोगों का दावा दो राउंड फायरिंग का है लेकिन अभी तक एक भी खोल नहीं बरामद हुआ है। वहीं चश्मदीदों के बयान भी अलग अलग आ रहे हैं। जिन लोगों से पुलिस ने बात की है, उनमें कोई बाइक, तो कोई स्कूटी और कोई कार से हमलावरों के आने की बात कह रहा है।

जामिया फायरिंग में शामिल नाबालिग को कट्टा मुहैया करवाने वाला गिरफ्तार

गुरुवार को जामिया नगर इलाके में छात्रों के पैदल मार्च के दौरान नाबालिग युवक ने जिस कट्टे से फायरिंग की थी उसके सोर्स तक क्राइम ब्रांच पहुंच गई है। नाबालिग को कट्टा मुहैया करवाने वाला शख्स पहलवानी करता है और उसका नाम अजीत (25) है। वह सहजपुरा गांव, जिला अलीगढ़, यूपी का रहने वाला है। वहीं नाबालिग की प्रोटेक्टिव कस्टडी 28 फरवरी तक बढ़ा दी गई है। बता दें कि इस फायरिंग में जामिया का एक छात्र शादाब फारुख जख्मी हो गया था। नाबालिग को मौके पर ही पकड़ लिया गया था। आरोपी बारहवीं की पढ़ाई कर रहा है। उसने जेजे बोर्ड के समक्ष परीक्षा की तैयारी के लिए एक ट्यूटर की मांग भी की है।


Next Story
Top