Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दक्षिणी दिल्ली में 11 स्थानों पर सुअरों की अवैध कटाई, एसडीएमसी ने कहा नालियों में नहीं बह रहा खून

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम क्षेत्र में सुअरों की कटाई का मामला एनजीटी में पहुंच गया है। जिसका जवाब देते हुए एसडीएमसी ने कहा है कि 11 स्थानों पर सुअरों की कटाई अवैध तरीके से हो रही थी।

दिल्ली वासियों को पानी-बिजली के बाद अब देना होगा सीवेज शुल्क, एनजीटी ने दिए आदेश
X
राष्ट्रीय हरित अधिकरण (फाइल फोटो)

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (SDMC) में 11 स्थानों पर अवैध तरीके से सूअरों को काटा जा रहा है। जिनके ऊपर रोक लगाते हुए एसडीएमसी ने नोटिस दिया है। जिसके कारण कोर्ट से स्टे ले लिया है। एसडीएमसी ने कहा है कि अब सुअरों की कटाई का खून नालियों में नहीं बहता है। उन्हें दो जगहों पर साफ-सुथरे ढंग से काटा जाता है।

एनजीटी में एक याचिका दायर की गई थी जिसमें आरोप लगाया गया था सुअरों को काटे जाने के बाद उनका खून नालियों में बहने से जल प्रदूषण होता है। इसपर एनजीटी ने सितंबर में एसडीएमसी को नालियों में खून बहने से रोकने के लिये कदम उठाने का निर्देश दिया था। एसडीएमसी ने एनजीटी को बताया कि उसके अधिकारियों ने इसके दायरे में आने वाले क्षेत्र का निरीक्षण किया और उन लोगों की सूची तैयार की जो अपने-अपने परिसरों में सुअरों को काट रहे हैं।

एसडीएमसी को पता चला कि पश्चिमी जोन में 11 लोग अवैध तरीके से सुअरों को काट रहे हैं और उन्हें इसे बंद करने का नोटिस दिया गया। निगम ने अपनी कार्य योजना रिपोर्ट में कहा कि वे नोटिस के खिलाफ अदालत पहुंच गए और अदालत ने नोटिस पर रोक लगा दी। हाईकोर्ट ने याचिकाकर्ताओं को निर्देश दिया कि वे हलफनामा दें कि वे नालियों को प्रदूषित नहीं करेंगे और उनमें खून नहीं बहाया जाएगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि इसके बाद एसडीएमसी ने 16 नवंबर को दोबारा निरीक्षण किया और पाया कि आठ परिसरों में सुअरों को नहीं काटा जा रहा। एक परिसर बंद मिला जबकि दो परिसरों में साफ-सुथरे ढंग से सुअरों को काटा जा रहा है और उनका खून नालियों में नहीं बह रहा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top