Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

दोस्तों के साथ मथुरा घूमने गयी युवती घायल, इलाज के दौरान तोडा दम

मथुरा घूमकर घर लौट रही एक युवती शुक्रवार शाम को ग्रेटर नोएडा के जेवर इलाके में गंभीर रूप से घायल हो गई। रविवार तड़के युवती की इलाज के दौरान मौत हो गई।

दोस्तों के साथ मथुरा घूमने गयी युवती घायल, इलाज के दौरान तोडा दमसांकेतिक चित्र

मथुरा घूमकर घर लौट रही एक युवती शुक्रवार शाम को ग्रेटर नोएडा के जेवर इलाके में गंभीर रूप से घायल हो गई। उसे तुरंत ग्रेटर नोएडा स्थित कैलाश अस्पताल में ले जाया गया, जहां हालत गंभीर होने पर उसे दिलशाद गार्डन स्थित जीटीबी अस्पताल में रेफर कर दिया गया। रविवार तड़के युवती की इलाज के दौरान मौत हो गई।

युवती के परिजनों का आरोप है कि उसके दोस्तों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म और मारपीट की है। जिससे उसकी मौत हुई है। उन्होंने इस मामले में जीटीबी एंक्लेव थाने में शिकायत भी दी है। वहीं, युवती के दोस्तों का कहना है कि वह सड़क हादसे में घायल हुई है। डीसीपी (शाहदरा) अमित शर्मा ने बताया कि मामला उत्तर प्रदेश का है। युवती को जीटीबी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उसकी मौत हुई है। मामले में यहां अभी कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है।

जानकारी के अनुसार, रेशमा (20, बदला हुआ नाम), नोएडा सेक्टर-73 में सपरिवार रहती थी। परिवार में माता-पिता, दो भाई व एक बहन हैं। पिता ड्राइवार का काम करते है। मां एक निजी कंपनी में काम करती है। वहीं, रेशमा भी एक कंपनी में जॉब करती थी। रेशमा के पिता ने बताया कि वह शुक्रवार सुबह अपने ऑफिस गई थी। शाम को उसने उन्हें फोन कर बताया कि वह अपने दोस्तों के साथ घूमने जा रही है। वह देर रात को घर लौटेगी। इसी बीच रात करीब 9:30 बजे रेशमा के साथ काम करने वाली युवती ने उन्हें फोन कर बताया कि जेवर में टप्पल के पास उनकी बेटी सड़क हादसे का शिकार हो गई है। उसे ग्रेटर नोएडा के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सूचना मिलते ही परिवार रात 11 बजे अस्पताल पहुंचा। उन्होंने देखा कि उनकी बेटी की हालत गंभीर बनी हुई है। हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने उसे जीटीबी अस्पताल में रेफर कर दिया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

शरीर पर नहीं है बाहरी चोट के निशान

रेशमा के पिता ने बताया कि वह जब अस्पताल पहुंचे तो रेशमा के दोस्तों ने बताया कि वह वे मथुरा घूमने गए थे। वहां से घर लौटते हुए जैसे ही वह जेवर में टप्पल के पास पहुंचे, तभी उन्हें एक वाहन ने टक्कर मार दी। इस दौरान वह गंभीर रूप से घायल हो गई। वहीं, रेशमा के पिता ने उसके दोस्तों पर सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि उनकी बेटी के शरीर पर बाहरी चोट के निशान नहीं थे। उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म और मारपीट की गई थी।

परिजनों को देखकर भागे दोस्त

रेशमा के पिता का आरोप है कि अस्पताल पहुंचने के कुछ देर बाद रेशमा के सारे दोस्त वहां से फरार हो गए। पिता ने बेटी का फोन चेक किया तो उन्होंने देखा कि उसमें से कुछ मैसेज डिलीट थे, जबकि मथुरा में लिए गए फोटो सुरक्षित हैं। उनका कहना है कि जो मैसेज डिलीट किये गए थे वह शुक्रवार के ही थे।

योजना के तहत दिया वारदात को अंजाम

परिजनों का आरोप है कि रेशमा के दोस्तों ने वारदात को अंजाम देने की पहले से ही योजना बना रखी है। वह मथुरा घूमने के बाहने उसे लेकर गए थे। वारदात में उन्होंने ऑफिस की एक अन्य लड़की को अपने साथ शामिल किया। इसके बाद वारदात को अंजाम देकर उन्होंने सड़क दुर्घटना का रूप देने का प्रयास किया।

युवती के बयान बदलने पर हुआ संदेह

पीडिता के पिता का कहना है कि आरोपियों के साथ शामिल लड़की बार-बार अपना बयान बदल रही है। पूछने पर वह बता रही है कि वे कार से मथुरा गए थे, फिर कभी बाइक तो कभी बस से जाने की बात कह रही है। किस वाहन ने उन्हें टक्कर मारी है, इसका उसके पास कोई जवाब नहीं है।


Next Story
Top