Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

गैंगस्टर विरेंद्र मान की हत्या की गुत्थी सुलझी, पुलिस ने गिरफ्तार किया आरोपी

आठ सितंबर को विरेंद्र एक रिश्तेदार की 13वीं से अपने घर लौट रहा था। इस दौरान विरेंद्र की कार उसका चालक दिनेश चला रहा था। जैसे ही वे लामपुर मोड़ के पास पहुंचे। इस दौरान उसकी कार ट्रैफिक में रुकी। कार के रुकते ही स्विफ्ट डिजायर कार से सवार पांच बदमाशों ने उस पर तोबड़तोड़ गोलियां बरसाकर दी।

गैंगस्टर विरेंद्र मान की हत्या की गुत्थी सुलझी, पुलिस ने गिरफ्तार किया आरोपीDelhi Police Arrested An Accused In Murder Case of Gangster Virendra Mann

आउटर-नॉर्थ जिले के स्पेशल स्टॉफ ने गत आठ सितंबर को नरेला (Narela) इलाके में ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर विरेंद्र मान (Virendra Mann) उर्फ काले की हत्या की गुत्थी को सुलझा लिया है। पुलिस ने इस मामले में कपिल मान उर्फ कालू (25) को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी खेड़ा-खुर्द का रहने वाला है।

आरोपी पर हत्या, लूटपाट जैसे आठ मामले दर्ज

पुलिस अधिकारी की माने तो आरोपी पर हत्या, हत्या के प्रयास, लूटपाट जैसे आठ मामले दर्ज है। पुलिस ने इस पर एक लाख 25 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया हुआ था। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर मामले में फरार चल रहे आरोपियों के बारे में पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

डीसीपी (आउटर-नॉर्थ) गौरव शर्मा ने बताया कि गत आठ सितंबर को विरेंद्र एक रिश्तेदार की 13वीं से अपने घर लौट रहा था। इस दौरान विरेंद्र की कार उसका चालक दिनेश चला रहा था। जैसे ही वे लामपुर मोड़ के पास पहुंचे। इस दौरान उसकी कार ट्रैफिक में रुकी। कार के रुकते ही स्विफ्ट डिजायर कार से सवार पांच बदमाशों ने उस पर तोबड़तोड़ गोलियां बरसाकर दी।

इस दौरान उसको करीब 25 गोलियां लगी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया। लोकल पुलिस के अलावा स्टेशल स्टॉफ मामले की छानबीन में जुट गई। इंस्पेक्टर अजय कुमार, एसआइ कमलेश कुमार व अन्यों की टीम ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी।

पुलिस ने ऐसे बिछाया जाल

जांच में टीम को पता चला कि हत्या में कपिल मान व उसके साथियों का हाथ है। इसी बीच पुलिस को पता चला कि रविवार को कपिल अपने सहयोगियों से मिलने के लिए सेक्टर-34, खेड़ा नहर के पास आने वाला है। पुलिस ने जाल बिछाकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान आरोपी ने अपना जुर्म कबूल लिया।

पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि हत्या में उसके साथ गैंगस्टर जितेंद्र गोगी, कुलदीप उर्फ फज्जा, मोहित व एक अन्य युवक था। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है।

कार से हुआ था विरेंद्र पर शक

बता दे कि जुलाई 2018 में झगड़े में प्रवेश मान ने कपिल के चाचा बबलू की हत्या कर दी थी। पुलिस ने आरोपी प्रवेश को विरेंद्र की कार से गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद से ही उसे विरेंद्र पर शक हुआ। कपिल ने चाचा की हत्या के शक के आधार पर प्रवेश के भाई अनिल की हत्या कर दी। कुछ ही दिनों बाद प्रवेश पैरोल पर बाहर आ गया। पैरोल पर आने के बाद कपिल को शक था कि विरेंद्र प्रवेश की मदद कर रहा है। इसके चलते उसने विरेंद्र की हत्या की योजना बनाई।

Next Story
Share it
Top