Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लाभ पद मामला: डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने भाजपा और कांग्रेस पर लगाए गंभीर आरोप

निर्वाचन आयोग ने लाभ के पद को लेकर आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्य करार दिया है। निर्वाचन आयोग ने राष्ट्रपति से उनकी सदस्यता खत्म करने की सिफारिश की है।

लाभ पद मामला: डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने भाजपा और कांग्रेस पर लगाए गंभीर आरोप

निर्वाचन आयोग ने लाभ के पद को लेकर आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्य करार दिया है। निर्वाचन आयोग ने राष्ट्रपति से उनकी सदस्यता खत्म करने की सिफारिश की है। इसके बाद सीएम अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी बड़ी परेशानी में फंस गयी है।

इसी दौरान डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने चुनाव आयोग पर सवाल खड़े दिए हैं। उन्होंने कहा कि हम राष्ट्रपति से समय मांग रहे हैं, हमरे विधायक उनसे मिलेंगे और अपनी बात रखेंगे।

सिसोदिया ने भाजपा पार्टी लगाया आरोप

इसके अलाव डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने भाजपा पार्टी पर आरोप लगाया है कि वह पिछले तीन साल के दौरान दिल्ली सरकार की तरफ से किए गए विकास कार्यों से डर गई है।

यह भी पढ़ें- पद्मावत विवाद: करणी सेना का दावा, भंसाली ने 'पद्मावत' देखने का भेजा न्यौता

डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा, हमने राजधानी यानी दिल्ली के लोगों की मुश्किलों को कम करने के लिए काम किया। हमने बिजली और पानी के दाम कम किये, काम के लिए विधायकों ने अपनी गाड़ी का इस्तेमाल किया। हमारे काम से बेईमान लोगों की दुकानें बंद स्कूलों की स्थिति अच्छी हुई, फ्लाइओवर्स बनाये गये।

आम आदमी पार्टी के काम से हुए परेशानी

उन्होंने कहा बीजेपी और कांग्रेस को आम आदमी पार्टी के द्वारा किए गए काम से परेशानी हुई और केजरीवाल सरकार के काम की गति को धीमी करने की साजिश की गयी।

यह भी पढ़ें- SC के फैसले के खिलाफ गुजरात मल्‍टीप्‍लेक्‍स एसोसिएशन, कहा- नहीं दिखाएंगे 'पद्मावत'

उन्होंने कहा कि बीजेपी और कांग्रेस 'आप' पर इस मुद्दे को लेकर हमला कर रही है। वहीं दूसरी ओर 'आप' ने इसे बीजेपी और केद्र सरकार की साजिश बताया। पार्टी ‘परेशान किये जाने' का आरोप लगाते हुए कहा कि वह ‘चुनावों से नहीं डरती है।

सिसोदिया ने कहा, इस मुद्दे को लेकर हमें कभी नोटिस नहीं दिया गया और न ही हमें अपनी बात रखने का मौका दिया गया। हमारे विधायक जल्द ही इस मुद्दे को लेकर राष्ट्रपति से मिलेंगे।

Next Story
Top