Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बेहद खराब हुई ''दिल्ली की हवा'', केंद्रीय मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने दिल्ली के पर्यावरण मंत्री के साथ की बैठक

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के आस-पास के इलाकों में पराली जलाए जाने और मौसमी संबधी अन्य परिस्थितियों के कारण वायु की गुणवत्ता बेहद खराब श्रेणी में पहुंच गई है। इसे लेकर केंद्रीय मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने दिल्ली के पर्यावरण मंत्री के साथ समीक्षा बैठक की।

बेहद खराब हुई

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के आस-पास के इलाकों में पराली जलाए जाने और मौसमी संबधी अन्य परिस्थितियों के कारण वायु की गुणवत्ता बेहद खराब श्रेणी में पहुंच गई है। इसे लेकर गुरुवार को केंद्रीय पर्यावरण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने दिल्ली के पर्यावरण मंत्री के साथ समीक्षा बैठक की।

दिल्ली में वायु प्रदर्शन को लेकर दिल्ली के पर्यावरण मंत्री के साथ की गई इस बैठक में केंद्रीय पर्यावरण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने स्थितियों कि समीक्षा की और दिल्ली को प्रदुषण से बचाने के लिए एक कार्य योजना बनने पर बात की।

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि अगले कुछ दिनों में, हवा की गुणवत्ता में सुधार की कोई संभावना नहीं है, लेकिन हम अपनी पूरी कोशिश कर रहे हैं। डॉ हर्षवर्धन ने बताया कि प्रदुषण कम करने के लिए हमने दिवाली से पहले लोगों से ग्रीन फायरक्रैकर्स (पटाखें) जलाने की अपील कि है।

दिल्ली की वायु गुणवत्ता 392 दर्ज की गई है जो बेहद खराब की श्रेणी में आती है और यह 400 का आंकड़ा पार करते ही गंभीर रूप से खराब की श्रेणी में पहुंच जाएगी। दिल्ली की वायु गुणवत्ता मंगलवार को गंभीर रूप से खराब की श्रेणी में पहुंच गई थी।

इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पंजाब और हरियाणा सरकार का पराली नहीं जलाने का दावा बिलकुल गलत है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सैटेलाइट की तस्वीरों में साफ दिखाई दे रहा हैं कि यहां पराली जलाई जा रही है, विशेष रूप से पंजाब में।

केजरीवाल ने कहा कि मैं राजनेताओं से अपील करता हूं कि वो इस तरह के गैर जिम्मेदाराना बयान न दें, बल्कि इस मुद्दे को हल करने में सरकार की मदद करें।

Next Story
Top