Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डॉ अंबेडकर टर्मिनल की हालत खस्ता, दो पड़ोसी देश पाकिस्तान और काठमांडू के लिए चलती है यहां से बसें

दिल्ली से दो पड़ौसी देश पाकिस्तान और काठमांडू के लिए बस सेवा प्रदान करने वाले डीटीसी के डा. अंबेडकर ट्रमिनल की खस्ता हालत भारत की छवि बिगाड़ रही है। यह एक इंटरनेशनल बस ट्रमिनल है, जहां से दो देशों के बीच बस सेवा चलती है।

डॉ अंबेडकर टर्मिनल की हालत खस्ता, दो पड़ोसी देश पाकिस्तान और काठमांडू के लिए चलती है यहां से बसें

दिल्ली से दो पड़ौसी देश पाकिस्तान और काठमांडू के लिए बस सेवा प्रदान करने वाले डीटीसी के डा. अंबेडकर ट्रमिनल की खस्ता हालत भारत की छवि बिगाड़ रही है। यह एक इंटरनेशनल बस ट्रमिनल है, जहां से दो देशों के बीच बस सेवा चलती है।

इसके अलावा यहां से दिल्ली के लोकल रूटो पर भी बस सेवा चलती है। दिल्ली यह ट्रमिनल ऐसी जगह मौजूद है, जहां इसके सामने से रोजाना दिल्ली सरकार के मंत्रियों, विधायकों, सांसदों, आईएएस अधिकारियों को आना जाना होता है।

यहां बने अंबेडकर स्टेडियम में कभी कभी देश विदेश की किक्रेट टीमें मैच खेलने आती है। इतनी महत्वपूर्ण जगह होने के बाद भी दिल्ली सरकार, परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत व डीटीसी अधिकारी पूरी तरह से आंखें मूंदे बैठे हैं।

इसे भी पढ़ें- कर्नाटक: टीपू जयंती को लेकर शुरू हुआ विवाद, HD कुमारस्वामी कार्यक्रम में नहीं लेंगे हिस्सा

ट्रमिनल के मैन गेट पर लगा ट्रमिनल के नाम वाले बोर्ड के चिथड़े उड़े पड़े है। दोनों गेट के बाहर व अंदर गंदगी कभी भी देखी जा सकती है। ट्रमिनल के बाहर अवैध कब्जाकर रेहड़ी पटरी लगाई जाती है।

सुरक्षा के नाम पर जिस समय पाकिस्तान या काठमांडू की बसें आती जाती है, उसी समय दोनों गेट बंद कर दिए जाते है। जबकि अन्य समय में ट्रमिनल के अंदर सुरक्षा नाम की कोई चीज देखने को नहीं मिलती।

नेपाल व पाकिस्तान आने जाने वाले यात्रियों के लिए व्यवस्था के नाम पर खानापूर्ति के सिवाय कुछ नहीं दिखता। ट्रमिनलों के रखरखाव की जिम्मेदारी संभाल रहे डिप्टी सीजीएम ए के कक्कड़ से बात नहीं हो सकी।

लेकिन सूत्रों का कहना है कि अकेले अंबेडकर ट्रमिनल ही नहीं अधिकांश ट्रमिलनों की हालत इस समय खराब है। लेकिन कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। अधिकारी मस्त डीटीसी पस्त हो रही है।

बता दें कि तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने 19 फरवरी 1999 को दिल्ली-लाहौर के बीच 'सदा-ए-सरहद' बस सेवा की शुरूआत की थी। जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेपाल से 24 नवंबर 2014 को भारत काठमांडू बस सेवा शुरू की थी।

Next Story
Top