Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीलिंग विवाद: दिल्ली में दो दिन का बंद, AAP के साथ कांग्रेस भी आई समर्थन के लिए आगे

व्यापारियों के संगठन कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स से जुड़े व्यापारी 48 घंटे का बंद रखेंगे तो वहीं चैम्बर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री से जुड़े व्यापारी 72 घंटे तक कारोबार बंद का ऐलान किया है।

सीलिंग विवाद: दिल्ली में दो दिन का बंद, AAP के साथ कांग्रेस भी आई समर्थन के लिए आगे
X

दिल्ली में सीलिंग का विरोध कर रहे व्यापारी संघ ने आज से दिल्ली बंद का ऐलान किया है। ये बंद दो दिनों के लिए है। इस बंद का दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने खुलकर समर्थन किया है।

व्यापारियों के संगठन कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) से जुड़े व्यापारी जहां 48 घंटे का बंद रखेंगे तो वहीं दूसरी ओर चैम्बर ऑफ ट्रेड एंड इंडस्ट्री (सीटीआई) से जुड़े व्यापारी 72 घंटे का अपना कारोबार बंद रख कर विरोध जताएंगे।

ये भी पढ़ें- मोदी सरकार के बजट पर पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कसा तंज, कहा- किसानों की आय असंभव

व्यापारियों ने मांग की है इस बात की जांच की जाए कि क्यों व्यापारियों को उनके अधिकार से वंचित रखते हुए सीलिंग की जा रही है। साथ ही कहा कि यह एक व्यापार बंद है और इसीलिए दिल्ली के सभी बाजारों में दुकानों के शटर बंद रहेंगे और कोई भी कारोबार नहीं होगा।

बता दें कि दो और तीन फरवरी को दिल्ली के सारे थोक एवं रिटेल बाजार बंद रहेंगे। व्यापार संघ ने कहा कि गुरुवार को केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पूरी द्वारा दिल्ली को सीलिंग से बचाने हेतु मास्टर प्लान में संशोधन के प्रस्ताव घोषित किये गए हैं।

वहीं, आम आदमी पार्टी ने व्यापारियों के साथ खड़े होने का एलान किया है। आम आदमी पार्टी आज सड़कों पर उतरेगी। पार्टी की तरफ़ से इस व्यापक बंद का नेतृत्व पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली संयोजक गोपाल राय करेंगे।

ये भी पढ़ें- बजट 2018: हरित संस्थाओं ने कहा- राष्ट्रीय स्वच्छ हवा कार्यक्रम का जिक्र नहीं होना निराशाजनक

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने साल 2006 में अवैध निर्माण की सीलिंग करने के आदेश जारी किए थे। इस आदेश पर बवाल बढ़ता देख केंद्र सरकार साल 2006 में ही दिल्ली स्पेशल प्रोविजन बिल लाई। जिसके बाद सीलिंग को रोक दिया गया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story