Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीलिंग मुद्दा: भाजपा-आप आमने-सामने,मनोज तिवारी ने केजरीवाल पर दागे कई सवाल

बीजेपी नेताओं ने आप कार्यकताओं पर बदतमीजी का आरोप लगाया और इस मुद्दे को लेकर सिविल लाइंस पुलिस स्टेशन में शिकायत भी दर्ज कराई।

सीलिंग मुद्दा: भाजपा-आप आमने-सामने,मनोज तिवारी ने केजरीवाल पर दागे कई सवाल
X

दिल्ली में सीलिंग के मुद्दे पर मंगलवार को मुख्यमंत्री आवास पर भाजपा नेता और आप नेता आमने-सामने आ गए। दरअसल भाजपा नेता सीलिंग को लेकर मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के साथ बैठक करने गए थे। इस दौरान दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने भी अरविंद केजरीवाल से कई सवाल दागे। उन्होंने कहा कि सरकार को इस मुद्दे पर विधानसभा का विशेष सत्र बुलाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि तीन साल में 351 सड़कों का कुछ नहीं हुआ है। बाद में बात बिगड़ कर आरोप-प्रत्यारोप तक पहुंच गई और भाजपा नेता बैठक का बहिष्कार कर सीएम आवास से बाहर चले गए। बाद में बीजेपी नेताओं ने आप कार्यकताओं पर बदतमीजी का आरोप लगाया और इस मुद्दे को लेकर सिविल लाइंस पुलिस स्टेशन में शिकायत भी दर्ज कराई।

इसे भी पढ़ें- दिल्ली: सीलिंग पर बीजेपी ने केजरीवाल सरकार को घेरा, लगाया ये आरोप

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि बीजेपी की तरफ से मुझे एक खत मिला था जिसमें दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी अपने दूसरे सहयोगियों के साथ सीलिंग पर बात करने के लिए मुझसे मिलना चाहते हैं।

यह जानकर मुझे बड़ी खुशी हुई और मैंने तुरंत एलजी को इस बात की सूचना पहुंचाई कि दिल्ली के सभी सांसद, विधायक और मेयर को लेकर मैं आपके पास आने के लिए तैयार हूं ताकि सीलिंग को लेकर कुछ स्थाई समाधान निकालकर दिल्ली के व्यापारियों को राहत दी जा सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसा पहली बार होता कि सभी पार्टियों के लोग एक साथ मिलकर दिल्ली के व्यापारियो की समस्या को सुलझाने के लिए प्रयासरत होते और ये पूरे देश में एक उदाहरण होता। लेकिन अफसोस कि बीजेपी के नेता सीलिंग की समस्या का समाधान निकालने नहीं बल्कि सिर्फ नाटक के जरिए राजनीति करने आए थे।

इसे भी पढ़ें- सीलिंग के खिलाफ आप का प्रदर्शन, लाठीचार्ज में वरिष्ठ नेता आशुतोष समेत दर्जनों नेता घायल

बीजेपी नेताओं की तरफ से बार-बार बंद कमरे में बैठकर बात करने की बात कही गई लेकिन हमने बार-बार कहा कि ये दिल्ली के व्यापारियों और लोगों की जिंदगी और उनके व्यापार से जुड़ा मुद्दा है और अच्छा होगा कि हम सबके सामने बैठकर चर्चा करें। लेकिन वो नहीं माने और बिना बात किए वहां से चले गए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में सीलिंग के मुख्यत चार कारण हैं, उन चार कारणों का जिÞक्र करते हुए अभी हाल ही में 25 जनवरी को मैंने खुद एलजी साहब को खत लिखा था जिसमें उनसे सीलिंग को खत्म करने की अपील की थी।

इसे भी पढ़ें- दिल्ली: सीलिंग पर सियासी घमासान तेज, भाजपा के पत्र के जवाब में CM केजरीवाल ने उपराज्यपाल को लिखा पत्र

जहां तक बात 351 सड़कों को अधिसूचित करने की है तो हम उन सड़कों की फाइल आगे बढ़ाने के लिए तैयार बैठे हैं लेकिन उसकी सर्वे रिपोर्ट एमसीडी को दिल्ली सरकार के पास जमा करनी है और उसके बाद ही दिल्ली सरकार उस रिपोर्ट के साथ उनकी फाइल को सुप्रीम कोर्ट के पास भेजेगी, एसीडी ने सोमवार को फिर से दो दिन का वक्त मांगा है, जैसे ही एमसीडी हमें रिपोर्ट देगी हम उसे सुप्रीम कोर्ट के पास भेज देंगे।

सीएम की मांगें

1. पहला कारण लोकल शॉपिंग सेंटर के एफएआर बढ़ाने का है जिसे 180 से बढ़ाकर 300 किया जाना चाहिए, यह सिर्फ़ उपराज्यपाल महोदय के अधिकार क्षेत्र में आता है।

2. नॉटिफाइड कमर्शियल सड़कों पर कन्वर्जन चार्ज को बेहद कम किया जाए, ये काम भी एलजी साहब को करना है

3. बेसमेंट का एफएआर और कन्वर्जन चार्ज तुरंत उपरी मंजली के बराबर ही अधिसूचित किया जाना चाहिए, यह काम भी एलजी साहब ही कर सकते हैं।

4. कन्वर्जन चार्ज पर लेट फीस को पूरी तरह से माफ किया जाना चाहिए, ये भी एलजी साहब ही कर सकते हैं।

-सुप्रीम कोर्ट में करेंगे अपील

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली का व्यापारी त्रस्त है, उनका व्यापार बंद हो रहा है। अगर एलजी साहब और केंद्र सरकार चाहें तो सिर्फ़ 24 घंटे में सीलिंग बंद हो सकती है लेकिन पता नहीं क्यों बीजेपी और एलजी साहब कोई कोशिश नहीं कर रहे हैं। दिल्ली सरकार अब दो-तीन दिन में ही सुप्रीम कोर्ट में जाकर सीलिंग रुकवाने की अपील करेगी।

-सीएम ने की व्यापारियों से की बात

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को दिल्ली के अलग-अलग बाजारों का दौरा किया और सीलिंग के मुद्दे पर दिल्ली के व्यापारियों से सीधी बात की।

सीलिंग के मुद्दे पर मुख्यमंत्री ने मॉडल टाउन,चांदनी चौक, करोल बाग, मेहरचंद मार्केट, डिफेंस कॉलोनी और हौज खास मार्केट में गए वहां के व्यापारियों से सीधी बात करते हुए उनकी परेशानियों को जाना।

-सिविक सेंटर पर आप का क्रमिक अनशन शुरू

सीलिंग के खिलाफ आम आदमी पार्टी ने सिविक सेंटर पर अपना क्रमिक अनशन शुरू कर दिया है। मंगलवार को आप के वरिष्ठ नेता और राष्ट्रीय प्रवक्ता दिलीप पांडे सभी पार्षदों और नगर निगम में नेता विपक्ष के साथ सिविक सेंटर के सामने बैठे।

वरिष्ठ नेता दिलीप पाडे के साथ आप के पार्षद और नगर निगम में नेता विपक्ष भी शामिल रहे। दिलीप पांडे ने कहा कि हम चाहते हैं कि दिल्ली के व्यापारियों को राहत मिले, संयुक्त सदन के अंदर भाजपा नौटंकी करने कि बजाय कन्वर्जन चाार्जेज अगर माफ कर देती तो जो आज हमारे व्यापारी भाईयों को दिक्कतें हो रही हैं वो नहीं होतीं।

-आज होगा 351 सड़कों पर पर्दाफाश

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज से ट्वीट कर जानकारी दी है कि आज तीनों एमसीडी के कमिश्नर दिल्ली विधानसभा की कमेटी के सामने आएंगे। इस बैठक में 351 सड़कों का भी पर्दाफाश किया जाएगा।

-351 सड़कों पर भी हुई सीलिंग: विजेन्द्र

विपक्ष के नेता ने कहा कि इस घटना से केजरीवाल और उनकी टीम का दोहरा चरित्र सामने आया। मुख्यमंत्री सफेद झूठ बोलने के आदि हो चुके हैं। उनका यह कहना पूरी तरह असत्य और शरारतपूर्ण है कि, जिन 351 सड़कों की फाइल दिल्ली सरकार के पास लटकी पड़ी है, उनपर सीलिंग नहीं हो रही है। उन्होंने बताया कि मॉडल टाउन-3 में मॉल रोड़ से लेकर मोहन पार्क स्कूल तक की सड़क पर 10 बिल्डिंगों को सील किया गया है।

जिन बिल्डिंगों को सील किया गया उनमें लाइफ इन्श्योरेंस कॉरपोरेशन आॅफ इंडिया (जी-1), मुथूट फाइनेंस (एच-2), सैमसंग सर्विसिस स्टोर (डी-2/9), रैलिगेयर हैल्थ इन्श्योरेंस (एच-2), ब्रिज कोली मेकओवरर्स (डी-2/4), दिव्या वाया वीनस (डी-2/4), अजय आर्य का कार्यालय (जी-7), इडन जिम (डी-2/9), हैंग इन (डी-14/1) और जिम (एच-1) शामिल हैं।

गुप्ता ने कहा कि उपरोक्त सड़क मिक्सड यूज से कमर्शियल यूज में संशोधित की जानी है। सिविल लाइन्स क्षेत्र के अन्तर्गत यह संशोधन लिस्ट के सीरियल नं. 2 पर अंकित है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story