Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रैनबैक्सी के पूर्व निर्देशक मनजीत सिंह गिरफ्तार, गिरवी संपत्ति बेचने का आरोप

इलाके में पृथ्वीराज रोड स्थित अपनी प्रॉपर्टी को फर्जीवाड़ा कर बेचने की कोशिश के आरोप में आर्थिक अपराध ने गिरफ्तार किया है।

रैनबैक्सी के पूर्व निर्देशक मनजीत सिंह गिरफ्तार, गिरवी संपत्ति बेचने का आरोप

रैनबैक्सी के पूर्व निर्देशक मनजीत सिंह को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मनजीत सिंह को गिरवी रखी मंहगी संपत्ति बेचने के मामले में गिरफ्तार किया गया है। इनको एक अदालत के दूवा्रा 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। बता दें कि मनजीत को दिल्ली पुलिस के आर्थिक अपराध शाखा ने गिरफ्तार किया है।

बताते चले कि नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) इलाके में पृथ्वीराज रोड स्थित अपनी प्रॉपर्टी को फर्जीवाड़ा कर बेचने की कोशिश के आरोप में आर्थिक अपराध ने गिरफ्तार किया है। आर्थिक अपराध शाखा ने जांच में शामिल होने के लिए उन्हें कई बार नोटिस भेजा, लेकिन उन्होंने जांच में सहयोग नहीं किया।
बुधवार को उन्हें गिरफ्तार कर पटियाला हाउस कोर्ट स्थित मुख्य महानगर दंडाधिकारी की अदालत में पेश किया गया। जहां से उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।
आर्थिक अपराध शाखा के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, मंजीत सिंह रेनबैक्सी फैमिली के सदस्य हैं। वह पहले कंपनी में निदेशक के पद पर थे। एनडीएमसी इलाके में पृथ्वीराज रोड पर उनका एक बड़ा प्लाट है। पिछले साल उसे बेचने के लिए उन्होंने ऑप्टीमस इंफ्राकॉम के सीएमडी अशोक गुप्ता से बात की थी। 254 करोड़ रुपये में प्रॉपर्टी की डील हुई थी।
एग्रीमेंट में मंजीत सिंह ने बताया था कि उस प्रॉपर्टी पर कोई लोन नहीं है। सौदा तय होने पर अशोक गुप्ता ने पहली किस्त के रूप में मंजीत सिंह को 4.50 करोड़ रुपये दे दिए, लेकिन शेष रकम देने से पहले उन्हें पता चला कि उस प्रॉपर्टी पर बैंक लोन है।
अशोक गुप्ता ने इसकी शिकायत करते हुए मंजीत सिंह से रकम वापस करने के लिए कहा, लेकिन वह पैसे लौटाने को तैयार नहीं हुए। इसके बाद पिछले साल अप्रैल में अशोक गुप्ता ने आर्थिक अपराध शाखा में उनके खिलाफ फर्जीवाड़ा का मुकदमा दर्ज करा दिया था।
Next Story
Top