Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली के इन इलाकों में हुआ सबसे ज्यादा प्रदूषण, बैन के बावजूद छाई काली धुंध

डीपीसीसी के आरके पुरम निगरानी केंद्र ने 878 पर पीएम 2.5 और पीएम 10 दर्ज किया है।

दिल्ली के इन इलाकों में हुआ सबसे ज्यादा प्रदूषण, बैन के बावजूद छाई काली धुंध
X

दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट के पटाखों पर बैन के बावजूद शहर में जमकर बम पटाखे फोड़े गए। रिपोर्ट के मुताबिक, आतिशबाजी से शहर में 24 गुना तक प्रदूषण बढ़ गया है। सबसे ज्यादा प्रदूषण आरके पुरम में हुआ है।

डीपीसीसी के आरके पुरम निगरानी केंद्र ने 878 पर पीएम 2.5 और पीएम 10 दर्ज किया है। रात 11 बजे लगभग 1,179 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर दर्ज किया। जो सबसे ज्यादा प्रदूषण रहा।
शुक्रवार सुबह 6 बजे इंडिया गेट पर पीएम 2.5 की मात्रा 911 माइक्रोन है, जबकि सामान्य तौर पर इसे सिर्फ 60 माइक्रोन होना चाहिए।
डीपीसीसी के आंकड़ें बताते हैं कि अशोक विहार में पीएम 2.5 की मात्रा 820 माइक्रोन है जो सामान्य से 14 गुना ज्यादा रहा और आनंद विहार में पीएम 2.5 कणों की मात्रा 617 माइक्रोन है, जो सामान्य से 10 गुने से भी ज्यादा है।
केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड बीते एक 1 अक्टूबर से दिल्ली और एनसीआर के प्रदूषण को माप रहा है। रोजाना सरकार को रिपोर्ट भी दे रही है। 24 गुना प्रदूषण सबसे ज्याद दिल्ली और आप पास के इलाकों से आया है।
दिवाली के बाद 24 गुना बढ़ा प्रदूषण
पीएम 10 की करें तो इसकी मात्रा आनंद विहार में सामान्य से 24 गुना तक ज्यादा सुबह 6 बजे रिकॉर्ड की गई। पीएम 10 के मानकों पर ध्यान दें तो सामान्य स्तर तकरीबन 100 माइक्रोन माना जाता है लेकिन सुबह 6 बजे आनंद विहार में इसकी मात्रा 2402 माइक्रोन तक पहुंची गई।
पिछले साल इतना रहा प्रदूषण
केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक, बीते गुरुवार को एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 319 था, जो 'काफी खराब' स्थिति है लेकिन पिछले साल दिवाली पर (30 अक्टूबर) हालात ज्यादा ही खराब थे। पिछले साल इंडेक्स 431 पर पहुंच गया था।
बता दें कि 9 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट की ओर से पटाखों पर बैन लगाए गया था. इस आदेश का तमाम लोगों ने स्वागत किया है तो वहीं कुछ लोगों ने इस पर निराशा जताई थी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story