Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

DCW का आठ नेपाली महिलाओं को ‘छुड़ाने'' का दावा, पुलिस नहीं मान रही मानव तस्करी का मामला

दिल्ली महिला आयोग ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि उसने मध्य दिल्ली के पहाड़गंज इलाके के एक होटल में छापेमारी कर वहां से आठ नेपाली महिलाओं को छुड़ाया। हालांकि, पुलिस ने कहा कि यह मानव तस्करी का मामला नहीं है और महिलाओं ने शोषण या दुष्कर्म के आरोप नहीं लगाए हैं।

DCW का आठ नेपाली महिलाओं को ‘छुड़ाने

दिल्ली महिला आयोग ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि उसने मध्य दिल्ली के पहाड़गंज इलाके के एक होटल में छापेमारी कर वहां से आठ नेपाली महिलाओं को छुड़ाया। हालांकि, पुलिस ने कहा कि यह मानव तस्करी का मामला नहीं है और महिलाओं ने शोषण या दुष्कर्म के आरोप नहीं लगाए हैं।

पुलिस उपायुक्त (मध्य) मनदीप सिंह रंधावा ने कहा, ‘‘यह मानव तस्करी का मामला नहीं है, इसलिए उन्हें छुड़ाने का सवाल ही पैदा नहीं होता। अब तक की जांच के आधार पर कोई अपराध नहीं बनता।'
महिला आयोग ने दावा किया कि उसे एक एनजीओ से गुप्त सूचना मिली, जिसने सूचित किया कि कुछ नेपाली महिलाएं पहाड़गंज के एक होटल में रखी गई हैं और तस्करी के जरिए उन्हें खाड़ी देशों में ले जाने की तैयारी है।
आयोग ने एक बयान में कहा, ‘‘दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने सदस्य वंदना सिंह और किरण नेगी के साथ मिलकर दिल्ली पुलिस की सहायता से छापेमारी की और इन आठ नेपाली लड़कियों को देखा और उन्हें छुड़ाया।'
पुलिस ने कहा कि नेपाली दूतावास और एनजीओ के अधिकारियों की मौजूदगी में महिलाओं के बयान दर्ज किए जा रहे हैं।
रंधावा ने बताया कि सभी की उम्र 20 साल से अधिक है। उन्हें एनजीओ की ओर से मुहैया कराए गए एक आश्रय गृह में भेजा जा रहा है।
उन्होंने कहा, ‘‘सभी महिलाओं के पास मान्य दस्तावेज हैं। होटल ने कानून के मुताबिक उनकी पहचान के दस्तावेज उनसे लिए हैं।'
Next Story
Top