Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मुख्य सचिव से मारपीट केस: कोर्ट ने ''आप'' विधायक की जमानत याचिका की खारिज

अदालत ने दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर कथित रूप से हमला करने के आरोप में गिरफ्तार किए गए आम आदमी पार्टी के विधायक प्रकाश जरवाल को मंगलवार को जमानत देने से इनकार कर दिया।

मुख्य सचिव से मारपीट केस: कोर्ट ने

महानगर की एक अदालत ने दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर कथित रूप से हमला करने के आरोप में गिरफ्तार किए गए आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक प्रकाश जरवाल को मंगलवार को जमानत देने से इनकार कर दिया। सत्र अदालत ने साथ ही कहा कि वह इस बात की अनदेखी नहीं कर सकती कि विधायक ने ‘अपने कर्तव्य के ईमानदारी से निर्वहन कर रहे' 56 साल के एक सरकारी नौकर की ‘मर्यादा को सरेआम चोट पहुंचाई।'

ये भी पढ़ें- MBBS में दाखिले के लिए तय ऊपरी आयु सीमा दिल्ली हाईकोर्ट में चुनौती

विशेष न्यायाधीश अंजू बजाज चंदना ने देवली क्षेत्र के विधायक जरवाल की जमानत याचिका पर विचार करने से मना कर दिया।

विधायक ने इस आधार पर अपने लिए राहत की मांग की थी कि वह युवा हैं और उनकी हाल ही में शादी हुई है।

न्यायाधीश ने याचिका खारिज करते हुए कहा कि यह एक साधारण हमले का मामला नहीं है। अदालत ने कहा कि जरवाल को जमानत पर रिहा किया गया तो ऐसी संभावना है कि वह गवाहों को प्रभावित करने की या सबूतों से छेड़छाड़ करने की कोशिश करें।

इससे पहले गत 23 फरवरी को एक मजिस्ट्रेट अदालत ने मामले में दो विधायकों जरवाल एवं अमानतुल्ला खान को जमानत देने से मना कर दिया था।

ये भी पढ़ें- अवैध विदेशी पिस्तौल के साथ पूर्व विधायक गिरफ्तार, बडे़ अंतरराष्ट्रीय गिरोह से कर रहा था डील

सत्र अदालत में जरवाल के लिए जमानत की मांग करते हुए उनके वकील बी एस जून ने दलील दी कि उनके खिलाफ आरोप साबित नहीं हुए हैं और वे ‘हिस्ट्री शीटर नहीं' हैं। दोनों को 22 फरवरी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था।

Next Story
Top