Breaking News
अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने तालिबान के साथ शर्तें रखते हुए युद्धविराम की घोषणा, तालिबान का अभी तक कोई रिस्पांस नहींमौसम विभाग अलर्ट: अगले तीन घंटों में यूपी के 11 जिलों बारिश की संभावनापाक आर्मी को गले लगाने पर सिद्धू की मुश्किल बढ़ीदिल्ली समेत एनसीआर में मौसम हुआ सुहाना, कई इलाकों में झमाझम बारिशअंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की कमर टूटी, लंदन पुलिस को मिली बड़ी कामयाबीरेड अलर्ट : केरल में बाढ़ से अबतक 357 लोगों की मौत, NDRF का अब तक का सबसे बड़ा अभियान जारीअटल बिहारी वाजपेयीः अस्थियों को समेटनें पहुंची बेटी, हरिद्वार विसर्जित होंगी अटल जी की अस्थियांआज हरिद्वार में होगा अटल बिहारी वाजपेयी का अस्थि विसर्जन, पीएम और शाह भी रहेंगे मौजूद
Top

विपक्ष की एकता को झटका: 'सोनिया की डिनर पार्टी' में 'ममता' समेत ये बड़ी पार्टी नहीं होगी शामिल

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Mar 13 2018 7:02PM IST
विपक्ष की एकता को झटका: 'सोनिया की डिनर पार्टी' में 'ममता' समेत ये बड़ी पार्टी नहीं होगी शामिल

सोनिया गांधी द्वारा किए गए विपक्षी दलों को एकजुट लाने के प्रयास को बड़ा झटका लगा है। बता दें कि सोनिया द्वारा 13 मार्च को दिल्ली में डिनर पार्टी का आयोजन किया गया था जिसमें बीजद समेत उन गैर भाजपाई दलों को आमंत्रित किया गया है जो भाजपा से दूरी बनाए हैं। 

इसे भी पढ़े- छत्तीसगढ़ में नक्सलियों का खूनी तांडव जारी, इन बड़े हमलों से दहल गया था देश

बीजद अध्यक्ष और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक पहले ही यह कह कर अपना रुख साफ कर चुके हैं कि उनकी पार्टी भाजपा और कांग्रेस से समान दूरी बनाकर रखेगी। साथ ही नवीन पटनायक का कहना है कि बीजद को किसी के सहारे की आवश्यकता नहीं है वे अपने स्टैंड पर कायम है। 
 
वहीं, बीजद प्रवक्ता समीर दास का कहना है कि अभी तक पूरी तरह से साफ नहीं हुआ है कि सोनिया गांधी के रात्रि भोज के निमंत्रण में बीजद का क्या स्टैंड होगा। समीर दास ने नवीन पटनायक की बात को दोहराते हुए कहा कि बीजट अन्य पार्टियों से समान दूरी बनाए रखने के अपने स्टैंड पर कायम है।

 
चुनावी आंकड़ों की बात करें तो ओडिशा में बीजू जनता दल को किसी भी राजनीतिक दल से चुनौती नहीं मिल रही है। ऐसे में बीजू जनता दल के अन्य पार्टियों से गठजोड़ का कोई सवाल ही नहीं उठता। 
 
गौरतलब है कि ओडिशा में विधानसभा की 147 सीटों है जिनमें से 117 सीटें बीजू दल की हैं। वहीं, लोकसभा की बात की जाए तो 21 में से 20 सीटें बीजू जनता दल की हैं। ऐसे में बीजू जनता दल किसी पार्टी से गठजोड़ करें इसकी गुंजाइश कम ही नजर आती है।

ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
mansoon
mansoon

ADS

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo