Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली-एनसीआर के बिजली संयंत्रों में कोयले की कमी, केजरीवाल ने पीएम से मांगी मदद

दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में स्थित बिजली उत्पादन संयंत्र कोयले की ‘अत्यधिक'' कमी का सामना कर रहे हैं।

दिल्ली-एनसीआर के बिजली संयंत्रों में कोयले की कमी, केजरीवाल ने पीएम से मांगी मदद

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिख कर उनसे अनुरोध किया कि वह दिल्ली-एनसीआर के बिजली संयंत्रों के लिए कोयले के परिवहन के मकसद से रेलवे को ‘रेक' मुहैया करने का निर्देश दें।

गौरतलब है कि दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में स्थित बिजली उत्पादन संयंत्र कोयले की ‘अत्यधिक' कमी का सामना कर रहे हैं। हालांकि, रेलवे ने आज कहा कि दिल्ली को चिंता करने की जरूरत नहीं है क्योंकि बिजली संयंत्रों को पर्याप्त कोयले की आपूर्ति की जा रही है।

इसे भी पढ़ें- दिग्विजय सिंह को नितिन गडकरी पर यह आरोप लगाना पड़ा महंगा, कोर्ट में मांगी माफी

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने मोदी को लिखे पत्र में कहा है कि बढ़ते तापमान और दिल्ली में बढ़ती बिजली की मांग के मद्देनजर कोयले के भंडार की स्थिति बहुत चिंताजनक है और इस पर फौरन ध्यान देने तथा इसमें हस्तक्षेप किए जाने की जरूरत है।

केजरीवाल ने कहा कि भारतीय रेल द्वारा कोयले के परिवहन के लिए रेक मुहैया नहीं किए जाने के चलते एनसीआर के ताप बिजली संयंत्रों को कोयला नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि इसलिए वह अनुरोध करते हैं कि इसमें वह व्यक्तिगत रूप से हस्तक्षेप करें और रेलवे को आवश्यक निर्देश दें।

इसे भी पढ़ें- गुजरात में हुआ गोरखपुर जैसा हादसा, 5 महीने में हुई 111 नवजात बच्चों की मौत

वहीं, केजरीवाल के आरोप पर रेलवे ने जवाब देते हुए कहा कि दादरी , झज्जर और बदरपुर बिजली संयंत्रों में कोयले की जरूरत को रेलवे पर्याप्त रूप से पूरा कर रहा है।

रेल यातायात (रेलवे ट्रैफिक) के सदस्य मोहम्मद जमशेद ने कहा कि बदरपुर में अभी 1. 5 रेक की खपत है जबकि हम दो-तीन रेक की आपूर्ति कर रहे हैं। दादरी में पांच रेक की खपत है और आज वहां सात रेक हैं।

झज्जर में 3. 5 रेक की खपत है जबकि रेलवे चार रेक की आपूर्ति कर रहा है। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में भीषण गर्मी पड़ रही है। यहां बिजली की अधिकतम मांग 6200 मेगावाट को पार कर गई है और इसके जल्द ही 7000 मेगावाट पार करने की उम्मीद है।

Next Story
Top