Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

CBSE पेपर लीक मामले में नया खुलासा, मास्टरमाइंड ने कहा- छात्रों की मदद के लिए किया पेपर लीक

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) के 12वीं के अर्थशास्त्र के पेपर लीक मामले में लगातार खुलासे हो रहे हैं। अब पुलिस जांच में यह बात सामने आई है कि पेपर लीक मामले के मास्टरमाइंट राकेश कुमार ने बच्चों की मदद के लिए पेपर लीक किया था।

CBSE पेपर लीक मामले में नया खुलासा, मास्टरमाइंड ने कहा- छात्रों की मदद के लिए किया पेपर लीक

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) के 12वीं के अर्थशास्त्र के पेपर लीक मामले में लगातार खुलासे हो रहे हैं। अब पुलिस जांच में यह बात सामने आई है कि पेपर लीक मामले के मास्टरमाइंट राकेश कुमार ने बच्चों की मदद के लिए पेपर लीक किया था।

वहीं, अब राकेश के एक करीबी रिश्तेदार की भी गिरफ्तारी हो सकती है। दिल्ली पुलिस के सूत्रों के अनुसार, स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम कभी भी इस महिला को गिरफ्तार कर सकती है।

यह भी पढ़ें- प्रिया प्रकाश के गाने को लेकर SC में दायर याचिका, कहा- 'आंखें मटकाना इस्लाम में हराम'

हिमाचल प्रदेश से किया था गिरफ्तार

बीते दिनों पुलिस ने आरोपी राकेश कुमार को स्कूल के क्लर्क अमित शर्मा और चपरासी अशोक कुमार के साथ हिमाचल प्रदेश के ऊना से गिरफ्तार किया था। जानकारी के मुताबिक, राकेश डीएवी सेंटेनरी पब्लिक स्कूल में इकोनॉमिक्स और कॉमर्स विषय पढ़ाता है। साथ ही वह वहां के नवोदय विद्यालय में चल रही परीक्षा का सुपरिंटेंडेंट था।

ऐसे फैला पेपर

दिल्ली पुलिस ने बताया कि राकेश ने अपने ही स्कूल की एक छात्रा को लीक किए गए पेपर को हाथ से लिखने के लिए बोला। फिर उसने हाथ से लिखे इस पेपर को वॉट्सएप के जरिए अपनी एक रिश्तेदार को पंजाब के फिरोजपुर भेजा।

फिरोजपुर से यह पेपर हरियाणा के पंचकूला में पहुंचा, जहां फिरोजपुर की महिला के रिश्तेदार का बेटा 12वीं का स्टूडेंट था। जो कि इकोनॉमिक्स का पेपर दे रहा था। इसके बाद पंचकूला से निकलकर यह पेपर 40 अलग-अलग वॉट्सएप ग्रुप के जरिए दिल्ली भी पहुंचा।

यह भी पढ़ें- 6.1 तीव्रता के भूकंप से दहला जापान, चार लोग घायल

बच्चों की मदद के लिए किया पेपर लीक

दरअसल, राकेश का कहना है कि वो पढ़ाई में कमजोर कुछ बच्चों की मदद करना चाहता था इसलिए उसने इकोनॉमिक्स का पेपर लीक कराया। लेकर पेपर लीक का ये मामला उसे भारी पड़ गया। हालांकि, दिल्ली पुलिस द्वारा की गई पूछताछ के दौरान सामने आया कि राकेश ने पेपर लीक के लिए कोई पैसा नहीं लिया है।

क्या था मामला

गौरतलब है कि CBSE ने पेपर लीक के चलते 12वीं इकोनॉमिक्स और 10वीं गणित का पेपर रद्द कर दिया था। इसके बाद सीबीएसई ने 12वीं इकोनॉमिक्स का पेपर 25 अप्रैल को दोबारा करवाने का फैसला किया। वहीं 10वीं का गणित का पेपर दोबारा नहीं होगा।

Next Story
Top