Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली में तेजाब की अवैध बिक्री के लिए अभियान जारी, 7 लाख रूपए से अधिक के चालान काटे

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल ने सोमवार को बताया कि गत दिनों राजधानी दिल्ली में हुए एसिड हमलों के बारे में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करने के लिए मुख्य सचिव विजय देव की अध्यक्षता में एक विशेष बैठक आयोजित की गई।

अलीगढ़ : शादी से मना करने पर लड़की ने ब्वायफ्रैंड पर फेंका तेजाब, बुरी तरह झुलसाअलीगढ़ : शादी से मना करने पर लड़की ने ब्वायफ्रैंड पर फेंका तेजाब, बुरी तरह झुलसा

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल ने सोमवार को बताया कि गत दिनों राजधानी दिल्ली में हुए एसिड हमलों के बारे में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करने के लिए मुख्य सचिव विजय देव की अध्यक्षता में एक विशेष बैठक आयोजित की गई। बैठक में कई विभागों के सचिव, दिल्ली पुलिस और डीएसएलएसए के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

बैठक में मुख्य सचिव ने एसिड हमलों की घटनाओं पर चिंता व्यक्त की और सभी विभागों को एसिड की बिक्री की जांच करने और एसिड हमले के पीड़ितों के पुनर्वास की दिशा में काम करने का निर्देश दिया। मुख्य सचिव देव ने डिवीजनल कमिश्नर-सह-सचिव (राजस्व) को क्षेत्र के एसडीएम, दिल्ली महिला आयोग के प्रतिनिधि और दिल्ली पुलिस कर्मियों की एक संयुक्त टीम का गठन करने का निर्देश दिया।

मुख्य सचिव देव ने सख्त निर्देश दिए कि ये संयुक्त टीमें रोजाना छापेमारी करेंगी और जहां भी अवैध तेजाब की बिक्री होती पायी जाएगी, या जिसके पास भी तेजाब का उचित रिकॉर्ड नहीं पाया जायेगा, उनके ऊपर एसडीएम और दिल्ली पुलिस दोनों मौके पर ही कार्रवाई करेंगे।


मालिवाल ने बताया कि निर्देश के बाद पिछले 10 दिनों में एसडीएम, दिल्ली महिला आयोग और दिल्ली पुलिस की संयुक्त टीमों ने 1 सौ से अधिक छापे मारे और 7 लाख रूपए से अधिक के चालान काटे। टीमों ने नकली ग्राहक बन कर दिल्ली में कई दुकानों से 1 हजार लीटर से अधिक जमा तेजाब जब्त किया। नरेला में एक छापे के दौरान टीम ने एक छोटी सी दुकान से 240 लीटर से अधिक तेजाब जब्त किया।

एक अन्य छापे में, नजफगढ़ सब-डिवीजन क्षेत्र में टीम ने 250 लीटर से अधिक तेजाब जब्त किया। यहां भी बिना किसी रोक टोक के तेजाब बेचा जा रहा था। करीब सभी दुकानों में स्टोर करके रखी गयी तेजाब का कोई रिकॉर्ड नहीं रखा गया था जो कि सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों और दिल्ली सरकार के आदेशों का उल्लंघन है। पूरी दिल्ली में 24 से अधिक सब-डिवीजन में छापे मारे गए।

Next Story
Top