Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उदित राज ने #metoo पर उठाए सवाल, कहा-10 साल बाद आरोप लगाने का क्या मतलब

बीजेपी सांसद उदित राज ने कहा कि मी टू कैम्पेन जरुरी है, लेकिन किसी व्यक्ति पर दस साल बाद यौन शोषण का आरोप लगाने का क्या मतलब है?

उदित राज ने #metoo पर उठाए सवाल, कहा-10 साल बाद आरोप लगाने का क्या मतलब

इस समय मी टू कैम्पेन पुरे देश में चर्चा का विषय बना हुआ है। मशहूर हस्तियों द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से वर्षों पहले हुए यौन शोषण के खुलासे में कई बड़े लोग भी चपेट में आ गए हैं। जिस पर लोगों कि राय भी आना शुरू हो गई हैं।

इस मुद्दे पर बीजेपी सांसद उदित राज ने अपने एक बयान से सबको चोंका दिया है। उदित राज ने कहा कि कुछ महिलाएं 2-4 लाख लेकर पहले किसी व्यक्ति पर इस स्तर के आरोप लगाती हैं फिर किसी और को ढूढ़ती है, मैं मानता हूँ कि ये पुरुषों की भी आदत में है, लेकिन क्या महिलाएं भी सही है? जिससे किसी पुरुष का जीवन ही खत्म हो जाता है। इस कैम्पेन का ऐसे किसी के खिलाफ दुरूपयोग नहीं किया जा सकता।

इसे भी पढ़ें - मायावती ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा- जिन्होंने वाराणसी से चुना उनपर गुजरात में हो रहा हमला

उदित राज ने 'मी टू' कैम्पेन पर सवाल खड़े करते हुए इसे भारत में एक गलत परम्परा शुरू होना बताया है। हालाँकि इससे पहले भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने इस कैंपेन के भारत में शुरू होने पर ख़ुशी जाहिर की थी।

बीजेपी सांसद ने कहा कि मी टू कैम्पेन जरुरी है, लेकिन किसी व्यक्ति पर दस साल बाद यौन शोषण का आरोप लगाने का क्या मतलब है ? इतने साल बाद सच कि जाँच कैसे होगी?

Next Story
Top