Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भाजपा छोड़ कांग्रेस में फिर शामिल हुए अरविंदर सिंह लवली, राहुल गांधी-अजय माकन ने किया स्वागत

कांग्रेस से भाजपा में गए अरविंदर सिंह लवली ने एक बार फिर कांग्रेस का दामन थाम लिया है। अरविंदर सिंह लवली ने अजय माकन, पीसी चाको सहित कई कांग्रेसी नेताओं की उपस्थिति में कांग्रेस की सदस्यता ली।

भाजपा छोड़ कांग्रेस में फिर शामिल हुए अरविंदर सिंह लवली, राहुल गांधी-अजय माकन ने किया स्वागत

कांग्रेस से भाजपा में गए अरविंदर सिंह लवली ने एक बार फिर कांग्रेस का दामन थाम लिया है। अरविंदर सिंह लवली ने अजय माकन, पीसी चाको सहित कई कांग्रेसी नेताओं की उपस्थिति में कांग्रेस की सदस्यता ली।

कांग्रेस में शामिल होने के बाद अरविंदर सिंह लवली ने कहा कि कांग्रेस को छोड़कर भाजपा में जाना मेरे लिए कोई खुशी की बात नहीं थी। मैंने वो निर्णय पीड़ा में लिया था। वैचारिक तौर पर में भाजपा में ठीक नहीं था।
दिल्ली कांग्रेस के अध्यक्ष अजय माकन ने अरविंदर सिंह लवली का कांग्रेस में स्वागत किया। अरविंदर सिंह लवली 9 महीने पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे।

शीला दीक्षित बोली

अरविंदर सिंह लवली के कांग्रेस में शामिल होने पर दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा कि मुझे काफी अच्छा लग रहा है कि वो वापिस आ गए हैं। उन्होंने महसूस करा कि अंत में अपना घर ही अच्छा होता है।

तीन बार दिल्ली सरकार में मंत्री

अरविंद लवली दिल्ली में शीला दीक्षित की सरकार में तीन बार मंत्री रह चुके हैं लवली कांग्रेस के दिल्ली में प्रदेश अध्यक्ष भी रहे थे। लवली शीला दीक्षित के खेमें के माने जाते हैं और दो दिन पहले ही शीला दीक्षित और अजय माकन के बीच समझौता हुआ है।

कांग्रेस से 4 बार विधायक रहे

अरविंदर सिंह लवली कांग्रेस के 4 बार विधायक रहे हैं। 1998 में पहली बार दिल्ली के गांधी नगर से विधायक बने थे। शीला दीक्षित सरकार में शिक्षा, शहरी विकास, पर्यटन और परिवहन मंत्री रह चुके हैं।

माकन से हुई अनबन

लेकिन अजय माकन को दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के बात से उनकी अनबन शुरू हो गई और फिर इतना झगड़ा बढ़ गया कि उन्होंने कांग्रेस से ही इस्तीफा दे दिया।
Next Story
Top