Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

वायु प्रदूषण : दिल्ली और एनसीआर में कल तक बंद रहेंगे उद्योग

उच्चतम न्यायालय द्वारा गठित पर्यावरण प्रदूषण प्राधिकरण प्रमुख भूरेलाल ने शनिवार को कहा कि दिल्ली और उसके आसपास के शहरों में प्रदूषणकारी ईंधन आधारित उद्योग कल सोमवार, 11 नवंबर तक बंद रहेंगे।

दिल्ली-NCR के शहरों में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए 8 नवंबर तक उद्योगों के संचालन पर रोकवायु प्रदूषण

दिल्ली में मौसम के आकलन के बाद उच्चतम न्यायालय द्वारा गठित पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम एवं नियंत्रण) प्राधिकरण (ईपीसीए) प्रमुख भूरेलाल ने शनिवार को कहा कि दिल्ली और उसके आसपास के शहरों में प्रदूषणकारी ईंधन आधारित उद्योग कल सोमवार, 11 नवंबर तक बंद रहेंगे।

ईपीसीए ने दिल्ली और एनसीआर में हॉट मिक्स संयंत्रों तथा स्टोन क्रशरों पर पाबंदी भी 11 नवंबर तक के लिए बढ़ा दी। उच्चतम न्यायालय ने चार नवंबर को इस क्षेत्र में निर्माण एवं मकानों एवं अन्य संरचनाओं को ढहाने की गतिविधियों पर अगले आदेश तक के लिए रोक लगा दी थी।

दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब एवं राजस्थान के मुख्य सचिवों को भेजे गए पत्र में ईपीसीए प्रमुख भूरेलाल ने कहा कि फरीदाबाद, गुरुग्राम, गाजियाबाद, नोएडा, बहादुरगढ़, भिवाड़ी, ग्रेटर नोएडा, सोनीपत, पानीपत में कोयला एवं अन्य ईंधन आधारित सभी उद्योग, जिन्होंने प्राकृतिक गैस या कृषि अवशिष्ट की ईंधन पद्धति नहीं अपनायी है, 11 नवंबर की सुबह तक बंद रहेंगे। ईपीसीए ने कहा कि दिल्ली में पाइप वाली प्राकृतिक गैस को नहीं अपनाने वाले उद्योग भी इस दौरान नहीं चलेंगे।

पिछले सप्ताह आपातस्थिति में पहुंची थी वायु गुणवत्ता

भूरेलाल ने कहा कि केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की अगुवाई वाले इस कार्यबल ने इस क्षेत्र में संभवत: बनी रहने वाली मौसम स्थितियों का आकलन किया और उसका आकलन है कि अगले 48 घंटे में वायु गुणवत्ता नहीं सुधरेगी तथा इसमें गिरावट भी नजर आ सकती है। गौरतलब है कि पिछले सप्ताह ईपीसीए ने दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में जनस्वास्थ्य आपातस्थिति घोषित कर दी थी क्योंकि पटाखों और पराली के जलाने तथा प्रतिकूल मौसम की वजह से दिल्ली में प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंच गया था।

Next Story
Share it
Top