Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

''आप'' की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में लिए गए 7 अहम फैसले, केजरीवाल ने केंद्र पर साधा निशाना

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राष्ट्रीय परिषद की बैठक में केंद्र सरकार के तीन साल के कार्यकाल को पूरी तरह नाकाम बताया।

आम आदमी पार्टि (आप) की राष्ट्रीय परिषद की बैठक का आयोजन बृहस्पतिवार को दिल्ली के अलीपुर हो रहा है। बैठक में पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता और मंत्री शामिल हुए। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राष्ट्रीय परिषद की बैठक में केंद्र सरकार के तीन साल के कार्यकाल को पूरी तरह नाकाम बताया।

आम आदमी पार्टी की 6वीं राष्ट्रीय परिषद की बैठक में हंगामे के बीच कई प्रस्ताव भी पास किए गए। उनमे से एक मोदी सरकार के खिलाफ भी आप ने प्रस्ताव पास किया है। दूसरी तरफ दिल्ली सरकार को जीरो पॉवर वाली सरकार बताते हुये अपने सभी फैसलों को लोकप्रिय करार दिया।

ये भी पढ़ें - जम्मू-कश्मीर सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़, दो जवान पुलवामा में शहीद

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी भ्रष्टाचार खत्म करने की बुनियाद पर खड़ी हुयी है। 49 दिनों की सरकार में एसीबी की ताकत पर दिल्ली से भ्रष्टाचार का खात्मा कर दिया था। लेकिन दूसरी बार सरकार बनने पर केंद्र ने पहला काम एसीबी छीनने से किया।

ये हैं नए प्रस्ताव

1. दिल्ली विधानसभा से पास हुआ जनलोकपाल बिल केंद्र द्वारा पास किया जाए और उसे जल्द ही लागू कराया जाए।

2. आप मोदी सरकार के द्वारा दिल्ली के उप राज्यपाल की मदद से दिल्ली की चुनी हुई सरकार को काम करने से रोकने की घोर निंदा करती है।

3. आप एक भ्रष्टाचार मुक्त वैकल्पिक राजनीति में अपनी प्रतिबद्धता पुनः व्यक्त करती है। जिसमें सभी वर्गों को न्याय मिल सके।

4. आप ने पत्रकारिता को लेकर भी मोदी सरकार पर हमला बोला है। पत्रकारों की हत्या, पुलिस द्वारा उठाया जाना, टीवी चैनलों और समाचारपत्रों के संपादकों पर दबाव डाल कर खबरों को एक ही पक्ष में दिखाने को विवश करना अभिव्यक्ति की आजादी पर सीधा हमला है।

5. पार्टी चुनाव आयोग से अगले सारे चुनावों को वीवीपैड मशीनों के साथ 25 फीसदी बूथों पर पेपर ट्रेल की अनिवार्य रुप से गणना करने की मांग करती है।

6. आप की बैठक में पार्टि ने देशभर में दलितों पर हो रहे अत्याचारों को लेकर केंद्र पर हमला बोला और कहा कि दलितों पर हो रहे अत्याचार को रोका जाए।

7. अन्य राज्यों के चुनावों के कारण रणनीति के तहत देश में बढ़ती हुई सांप्रदायिकता तथा डर के माहौल पर भी आम आदमी पार्टी काफी चिंतित है। इसको लेकर भी शांति का माहौल बनाया जाए।

बता दें कि पार्टी ने ओखला के विधायक अमानतुल्लाह खान को पार्टी से बाहर निकाल दिया था। अमानतुल्लाह ने कुछ महीने पहले कुमार विश्वास पर बीजेपी के एजेंट होने का आरोप लगाया था जिसके बाद उन्हें पार्टी से निलंबित कर दिया था। लेकिन अब अमानतुल्लाह खान को पार्टी में वापस ले लिया गया है जिससे कुमार विश्वास नाराज हैं।

Next Story
Top