Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कर्ज माफी की मांग, कई राज्यों में सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे किसान

अपनी मांगों को लेकर शुक्रवार को देशभर के 68 किसान संगठनों के बैनर तले लाखों किसान प्रदर्शन कर रहे हैं।

कर्ज माफी की मांग, कई राज्यों में सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे किसान

अपनी मांगों को लेकर शुक्रवार को देशभर के 68 किसान संगठनों के बैनर तले लाखों किसान फरीदाबाद में प्रदर्शन कर रहे हैं। यहां हरियाणा, राजस्थान, पंजाब के किसान ट्रैक्टर-ट्रॉलियों के साथ शुक्रवार को सड़कों पर उतरे हैं।

दक्षिण भारत और छत्तीसगढ़ के किसान भी अपने-अपने राज्यों में विरोध प्रदर्शन कर इसमें शामिल होंगे। ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि किसान संगठन दिल्ली के पॉश इलाकों में अपना प्रदर्शन कर सकते हैं। किसानों के प्रदर्शन को लेकर दिल्ली पुलिस ने पहले से ही तैयारी कर ली है।

यह भी पढ़ें- शर्मनाक! 19 साल की लड़की को बदमाशों ने सरेआम पेट्रोल छिड़ककर जिंदा जलाया

किसानों के प्रदर्शन करने की वजह

68 किसान संगठनों ने मांग की है कि जितने भी राज्यों में किसानों के ऊपर कर्ज है उसे राज्य व केंद्र की सरकार माफ करे। इसके साथ ही उन्होंने मांग की है साल 2006 में केंद्र की ओर से आई एमएस रिपोर्ट को भी लागू किया जाए। जिसससे किसानों की आर्थिक स्थिति सुधर सके।

हिरासत में लिए गए किसान

शुक्रवार को दिल्ली आने से पहले ये किसान गुरुवार को गन्नौर में अपनी ट्रैक्टर-ट्रॉली के साथ इकट्ठा हुए थे। इस बात की जानकारी लगते ही पुलिस ने किसानों से बात करने की कोशिश की। लेकिन किसान नेता और यूनियन के सदस्यों ने उनकी बात नहीं मानी तो पुलिस को उनको हिरासत में लेना पड़ा। साथ ही ट्रैक्टर-ट्रॉली को भी अपने कब्जे में ले लिया।

क्या है स्वामीनाथन आयोग

साल 2004 में केंद्र सरकार ने किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए और अन्न की आपूर्ति को भरोसेमंद बनाने के लिए एमएस स्वामीनाथन की अध्यक्षता में नेशनल कमीशन ऑन फार्मर्स का गठन किया था।

इस आयोग ने साल 2006 में अपनी रिपोर्ट सौंपते हुए कहा था कि किसानों के आर्थिक विकास के लिए 11वीं पंचवर्षीय योजना के लक्ष्य को लेकर बनी है।

Next Story
Top