Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल्ली: केजरीवाल सरकार दिखी सुस्त, 6 महीने में 433 बच्चों की मौत

आरटीआई कार्यकर्ता युसूफ नकी ने दिल्ली सरकार के स्वास्थय विभाग से इसकी जानकारी मांगी थी।

दिल्ली: केजरीवाल सरकार दिखी सुस्त, 6 महीने में 433 बच्चों की मौत

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के बाद अब दिल्ली में बच्चों की मौत का खेल जारी है। राजधानी दिल्ली में बीते 6 महीने में 433 बच्चों की मौत हो चुकी है।

बता दें कि इसमें सबसे ज्यादा नवजातों की मौत, रक्त में संक्रमण, निमोनिया और मेनिनजाइटिज से हुई है। एक आरटीआई के जवाब में राज्य सरकार ने यह जानकारी उपलब्ध करवाई है।

इसे भी पढ़ेंः कांग्रेस ने पीएम मोदी के मोदीकेयर पर कसा तंज, जारी किया वीडियो

आरटीआई के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि जनवरी 2017 से जून 2017 के बीच दिल्ली के 16 एसएनसीयू में 433 बच्चों की मौत हुई है।

उन्होंने आगे बताया कि 16 ‘स्पेशल न्यूबॉर्न केयर यूनिटों’ (एसएनसीयू) में जनवरी 2017 से जून 2017 के बीच 8,329 नवजात बच्चों को भर्ती करवाया गया था। जिनमें 5,068 नवजात लड़के और 3,787 नवजात लड़कियां शामिल थीं।

इसे भी पढ़ेंः जम्मू कश्मीर: एनआईए का दावा, पत्थरबाजी की घटनाएं अलगाववादी ताकतों की साजिश

बता दें कि निमोनिया और मेनिनजाइटिज से 116, सांस संबंधी बीमारी से 109, ऑक्सीजन की कमी से 105, वक्त से पहले जन्म से 86, मेकोनियम ऐपीरेशन सिंड्रोम से 55, पैदाइशी बीमारी से 36 और अन्य कारण से 22 बच्चों की मौत हो चुकी है।

आरटीआई कार्यकर्ता युसूफ नकी ने दिल्ली सरकार के स्वास्थ विभाग से इसकी जानकारी मांगी थी।

Next Story
Top