Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अरुण जेटली के सपोर्ट में आए वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर

सहवाग ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लिखा है कि डीडीसीए में जेटलीजी हमेशा खिलाड़ियों के सपोर्ट में रहते थे।

अरुण जेटली के सपोर्ट में आए वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर
नई दिल्ली. DDCA में स्कैम को लेकर विपक्षियों के निशाने पर आए वित्त मंत्री अरुण का वीरेंद्र सहवाग ने सपोर्ट किया है। सहवाग ने रविवार को ट्वीट कर कहा, ''जेटली मुश्किल वक्त में खिलाड़ियों का साथ देते थे। सही खिलाड़ियों का सिलेक्शन होता था।'' आप ने जेटली पर घोटाले के साथ ही दिल्ली टीम में खिलाड़ियों के सिलेक्शन पर भी सवाल उठाया था।
सहवाग ने ट्वीट किया है कि डीडीसीए में जेटलीजी हमेशा खिलाड़ियों के सपोर्ट में रहते थे। मुश्किल वक्त में साथ देते थे। कहीं भी गलती होने की शिकायत की जाने पर वे तुरंत उसे ठीक कराते थे। जो खिलाड़ी डिजर्व करता था उसे न्याय मिलता था। मेरे वक्त में अगर डीडीसीए में कोई भी सरप्राइजिंग सिलेक्शन होता था मैं उन्हें इसके बारे में बताता। वे उसे ठीक कराते थे।
गंभीर ने पूर्व खिलाड़ियों को निशाना बनाते हुए लिखा है, 'मैं कुछ पूर्व खिलाड़ियों से अपील करता हूं वो नोट करें जो जेटली जी को डीडीसीए में हुई गलतियों के लिए जिम्‍मेदार ठहरा रहे हैं, ये वही लोग हैं जो जेटली जी की वजह से डीडीसीए में अच्‍छे पदों पर रहे थे।' गंभीर ने अपने ट्विटर पेज पर लिखा, 'डीडीसीए में भ्रष्‍टाचार के लिए अरुण जेटली जी को दोष देना पूरी तरह गलत है। वो ऐसे व्‍यक्ति हैं जिन्‍होंने दिल्‍ली को एक अच्‍छा स्‍टेडियम दिया वह भी बिना टैक्सपेयर्स के पैसों के।'
भारत की तरफ से 104 टेस्ट खेलने वाले सहवाग ने कहा, ‘और अरुण जेटली तुरंत सुनिश्चित करते थे कि सुधार हो और डीडीसीए में हकदार खिलाड़ी के साथ न्याय हो। डीडीसीए में किसी अन्य से बात करना बुरे सपने की तरह था लेकिन अरुण जेटली मुश्किल के समय हमेशा खिलाड़ियों के लिए उपलब्ध रहते थे।’
Next Story
Top